बंगाल में ममता की सत्ता रहेगी बरकरार, असम में फिफ्टी फिफ्टी है मामला

टाइम्स नाउ ओपिनियन पोल के मुताबिक बंगाल में टीएमसी, केरल में एलडीएफ, तमिलनाडु में डीएमके कांग्रेस, और पुदुच्चेरी में एनडीए की सरकार बनती दिख रही है, जबकि असम में करीबी मामला रहने के आसार हैं

Updated: Mar 25, 2021, 12:05 PM IST

बंगाल में ममता की सत्ता रहेगी बरकरार, असम में फिफ्टी फिफ्टी है मामला
Photo Courtesy: India Today

नई दिल्ली। पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों पर सबकी नज़रें टिकी हुई हैं। लेकिन लोगों को सबसे ज़्यादा जिज्ञासा यही जानने में है कि आखिर बंगाल की बाज़ी किसके हाथ लगेगी? एक नए और ताज़ा ओपिनियन पोल के मुताबिक बंगाल में ममता की ही सत्ता बरकरार रहने वाली है। यह ओपिनियन पोल टाइम्स नाउ ने किया है। इसके मुताबिक पश्चिम बंगाल में मोदी की दाढ़ी ममता के कुनबे को ढहाने में असमर्थ दिख रही है। 

हालांकि ओपिनियन पोल इस बात की तस्दीक ज़रूर कर रहा है कि बीजेपी बंगाल में अपना प्रदर्शन बेहतर करने जा रही है। लेकिन उसका बेहतर प्रदर्शन उसे सत्ता की चाभी देते हुए नज़र नहीं आ रहा है। 292 विधानसभा सीटों वाले पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के 150-160 सीटें जीतने का अनुमान है। वहीं बीजेपी के खाते में 100 या उससे कुछ अधिक सीटें जा सकती हैं। जबकि लेफ्ट कांग्रेस का गठबंधन ममता के लिए कोई मुश्किल खड़ा करता नज़र नहीं आ रहा। लेफ्ट कांग्रेस को 26 सीटें मिलने का अनुमान जताया जा रहा है। 

यह भी पढ़ेंओपिनियन पोल में बीजेपी को झटका, पश्चिम बंगाल में ममता की वापसी के आसार

बीजेपी के लिए बुरी खबर केवल बंगाल से ही नहीं है। तमिलनाडु में भी उसके गठबंधन की सरकार जाती हुई नज़र आ रही है। 234 सीटों वाले तमिलनाडु में कांग्रेस और डीएमके के गठबंधन को 177 सीटें मिलने का अनुमान है। तमिलनाडु में बीजेपी और उसके सहयोगी दल के बुरी तरह से पटखनी खाने की संभावना ज़्यादा है।2016 में बीजेपी AIDMK को 136 सीटों पर जीत मिली थी जबकि इस मर्तबा गठबंधन का आंकड़ा महज़ 49 सीटों पर ही सीमित रह सकता है। 

यह भी पढ़ेंऐसा गृह मंत्री कभी नहीं देखा, पीएम केवल भाषण देने में व्यस्त, प्रेस कॉन्फ्रेंस में ममता ने साधा निशाना

असम में बीजेपी गिरते पड़ते सरकार बनाती हुई दिख रही है। असम में बीजेपी को कांग्रेस और उसके सहयोगी दल ज़ोरदार टक्कर देते हुए नज़र आ रहे हैं। ओपिनियन पोल में मुताबिक 125 विधानसभा सीटों वाले असम में बीजेपी को सबसे अधिक 69 सीटें तो मिल रही हैं लेकिन कांग्रेस की झोली में भी 56 सीटें मिलने का अनुमान है। केरल में भी कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही राष्ट्रीय पार्टियों के लिए ज़्यादा कुछ करने की संभावना नजर नहीं आ रही है। केरल में पिनाराई विजयन अपनी सत्ता रिटेन करने जा रहे हैं। 140 सीटों में से विजयन की नेतृत्व वाली एलडीएफ को 77 सीटों मिलने का अनुमान है।

यह भी पढ़ें :प्रधानमंत्री पर बरसीं ममता बनर्जी, कहा, डोनाल्ड ट्रंप से भी बुरा होगा मोदी का हाल

बीजेपी के लिए एकमात्र अच्छी खबर उस राज्य से आ रही है जहां हाल ही में उसने सरकार गिराई है। पुदुच्चेरी की 30 सीटों वाली विधानसभा में बीजेपी के खाते में 21 सीटें जाने का अनुमान लगाया जा रहा है। कुल मिलाकर पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले के तमाम पूर्वानुमान में बीजेपी एकमात्र पुदुच्चेरी में ही सरकार बनाते हुए दिख रही है। असम का मामला करीबी होने का अनुमान लगाया जा रहा है।