जम्मू-कश्मीर में जबतक अनुच्छेद 370 लागू नहीं होता, महबूबा मुफ्ती नहीं लड़ेंगी चुनाव

महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 दुबारा लागू होने तक वे चुनाव नहीं लड़ेंगी, भले ही उनकी पार्टी जीत जाए लेकिन वे सीएम नहीं बनेंगी

Updated: Jun 26, 2021, 02:53 AM IST

जम्मू-कश्मीर में जबतक अनुच्छेद 370 लागू नहीं होता, महबूबा मुफ्ती नहीं लड़ेंगी चुनाव
Photo Courtesy: Huffingtonpost

जम्मू-कश्मीर। पीडीपी चीफ व जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने अनुच्छेद 370 को लेकर बड़ा बयान दिया है। मुफ़्ती ने कहा है कि जबतक जम्मू-कश्मीर में दुबारा अनुच्छेद 370 लागू नहीं होता वे चुनाव नहीं लड़ेंगी। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा है कि भले ही उनकी पार्टी पीडीपी चुनाव जीत जाए लेकिन वह मुख्यमंत्री का पद ग्रहण नहीं करेंगी। पीडीपी नेता ने यह बयान पीएम मोदी का गुपकर नेताओं के साथ बैठक के एक दिन बाद दिया है। 

प्रमुख न्यूज़ चैनल एनडीटीवी से बातचीत के दौरान महबूबा मुफ्ती ने कहा कि, 'जम्मू-कश्मीर के लोगों पर बहुत अत्याचार हो रहा है। यहां लोग ढंग से सांस तक नहीं ले पा रहे हैं। लोग घुटन महसूस कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर की जमीनी हालात बिल्कुल वैसी नहीं है जैसी दुनिया के सामने पेश की जा रही है।

यह भी पढ़ें: कोरोना के इलाज के लिए मिले 10 लाख तक की रकम पर नहीं लगेगा टैक्स, मुआवजे की रकम में भी छूट

पीडीपी चीफ ने कहा कि पीएम मोदी जब कहते हैं कि दिल की दूरियां कम करनी है तो उसका मतलब क्या होता है। कोई भी उम्मीद कर सकता है। सरकारी आंकड़े भले बता रहे हैं कि जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद में कमी आई है, लेकिन यहां पहले से ज्यादा अशांति है। जब से अनुच्छेद 370 और 35A हटाया गया है लोगों के मन में डर है कि राज्य की डेमोग्राफी बदल सकती है।'

महबूबा मुफ़्ती का यह बयान ऐसे समय में आया है जब गुरुवार को ही प्रधानमंत्री ने जम्मू-कश्मीर मसले को लेकर शीर्ष नेताओं के साथ पीएम आवास में बैठक किया है। इस बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने आश्वासन दिया है कि जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा दिया जाएगा।