कोरोना से हो रही मौतों को लेकर भावुक हुए पीएम मोदी, बोले- सभी को मेरी श्रद्धांजलि

पीएम मोदी ने आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के स्वास्थ्यकर्मियों से बात की, उन्होंने कहा कि बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद से जल्द ही काशी यह लड़ाई जीतेगी

Updated: May 21, 2021, 01:39 PM IST

कोरोना से हो रही मौतों को लेकर भावुक हुए पीएम मोदी, बोले- सभी को मेरी श्रद्धांजलि
Photo Courtesy: News18

वाराणसी। देशभर में कोरोना वायरस के चलते हो रही मौतों को लेकर प्रधानमंत्री मोदी आज बेहद भावुक दिखे। प्रधानमंत्री ने इस महामारी में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि हमारे हेल्थ सिस्टम पर एक साथ बहुत बड़ा दबाव बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद से हम यह लड़ाई अवश्य जीतेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ने आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में डॉक्टरों, फार्मा स्टाफ व अन्य फ्रंट लाइन वर्कर्स को संबोधित किया। इस दौरान वह जज्बाती होकर बोले, 'कोरोना के इस संकट काल में काशी के लोगों ने सराहनीय काम किया है। आपने शिव की कल्पना और भावना से जन-जन की सेवा की। इस वायरस ने हमारे कई अपनों को हमसे छीन लिया है। मैं उन सभी लोगों को श्रद्धांजलि देता हूं। उनके परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं।'

यह भी पढ़ें: चारधाम यात्रा पर उत्तराखंड हाई कोर्ट ने राज्य सरकार को लताड़ा, कहा, जाओ जाकर देखो क्या हो रहा है

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, 'कोरोना की दूसरी लहर में हमें कई मोर्चों पर एक साथ लड़ना पड़ रहा है, इस बार पॉजिटिविटी रेट भी पहले से कई गुना ज्यादा है। मरीजों को ज्यादा दिनों तक अस्पताल में रहना भी पड़ रहा है। इन सबसे हमारे हेल्थ सिस्टम पर एक साथ बहुत बड़ा दबाव पैदा हो गया है। इस लहर में हमने वैक्सीन की सुरक्षा को भी देखा है। वैक्सीन की सुरक्षा के चलते काफी हद तक हमारे फ्रंट लाइन वर्कर्स सुरक्षित रहकर लोगों की सेवा कर पाए हैं। यही सुरक्षाकवच आने वाले समय में हर व्यक्ति तक पहुंचेगा। हमें अपनी बारी आने पर वैक्सीन जरूर लगवानी है।'

अभी लंबी लड़ाई लड़नी है- पीएम

मोदी ने आगे कहा कि खतरा अभी टला नहीं है, बल्कि हमें अभी लंबी लड़ाई लड़नी है। उन्होंने कहा, 'अभी संतोष करने का समय नहीं है। हमें बनारस और पूर्वांचल के ग्रामीण इलाकों पर बहुत ध्यान देना होगा। अब हमारा अगला मंत्र होगा 'जहां बीमार, वहीं उपचार'। हमें अब इसी मंत्र पर फोकस करना है। जितना ज्यादा उपचार हम लोगों तक ले जाएंगे, स्वास्थ्य व्यवस्था का लोड उतना कम होगा। माइक्रो कंटेन्मेंट जोन बनाकर जिस तरह आप दवाइयां बांट रहे हैं, यह बहुत अच्छी पहल है।'

सीएम योगी के रोने का किया जिक्र

प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भी रोने का जिक्र किया। उन्होंने कहा, 'वैक्सीनेशन को भी हमें जन अभियान का हिस्सा बनाना है। हमें याद है पहले जब दिमागी बुखार से हजारों बच्चे उत्तर प्रदेश में मरते थे। योगी जी उस समय सांसद होते थे, संसद में वे रो पड़े थे। यह सिलसिला सालों साल तक चला, जब योगी सीएम बने और केंद्र में हमारी सरकार थी तब केंद्र और राज्य सरकार ने मिलकर दिमागी बुखार के खिलाफ बहुत बड़ा अभियान शुरू किया, फलस्वरूप हम बड़ी संख्या में बच्चों को बचाने में सफल हुए।'