संसद में सरकार पर जमकर बरसे राहुल गांधी, कहा, हम दो, हमारे दो के लिए हो रहा है सब कुछ

Rahul Gandhi: प्रधानमंत्री ने देशवासियों को सिर्फ तीन विकल्प दिए हैं, भुखमरी, बेरोज़गारी और आत्महत्या, केंद्र सरकार ने देश की रीढ़ की हड्डी तोड़ दी है

Updated: Feb 11, 2021, 07:32 PM IST

संसद में सरकार पर जमकर बरसे राहुल गांधी, कहा, हम दो, हमारे दो के लिए हो रहा है सब कुछ
Photo Courtesy : Jansatta

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज लोकसभा में केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर बरसे। कांग्रेस नेता ने पीएम पर तंज कसते हुए कहा, 'एक वक्त था जब 'हम दो, हमारे दो' का क्यूट-सा लोगो हुआ करता था, जिसमें प्यारे-प्यारे, मोटे-मोटे चेहरे होते थे। आज देश में सब कुछ 'हम दो, हमारे दो' के लिए ही किया जा रहा है। आज सिर्फ चार लोग देश को चला रहे हैं। देश का हर आदमी उनके नाम जानता है। हम दो, हमारे दो, यह किसकी सरकार है।

राहुल गांधी ने किसान आंदोलन और बेरोजगारी के मसलों का जिक्र करते हुए कहा, 'आज हमारा देश रोज़गार पैदा नहीं कर सकता है, कल भी नहीं कर पाएगा, क्योंकि केंद्र सरकार ने देश की रीढ़ की हड्डी तोड़ दी है।' उन्होंने कहा, 'पहले नोटबंदी फिर गुड्स एंड सर्विसेज़ टैक्‍स (GST) और हाल के दिनों में किसान कानून के रूप में ऐसे कदम उठाए गए हैं, जिनके खिलाफ देशभर के किसान आवाज उठा रहे हैं।' 

कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि, 'आप सब महसूस करते होंगे कि यह किसानों का विरोध प्रदर्शन हैं लेकन आप लोग गलत हैं। यह देश का विरोध प्रदर्शन है। किसान केवल हमें रास्‍ता दिखा रहे हैं। किसान अंधेरे में टॉर्च दिखा रहा है और एक आवाज से पूरा देश उठने वाला है। पूरा देश एक स्वर में हम दो हमारे दो के खिलाफ उठने जा रहा है।' 

यह भी पढ़ें: प्रियंका गांधी मौनी अमावास्या पर प्रयागराज पहुँचीं, संगम में लगाई आस्था की डुबकी

कृषि कानूनों के असर पर बात करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा, 'जब ये कानून लागू होंगे तो जो इस देश के किसान है, देश के मजदूर हैं, छोटे व्यापारी हैं इनका धंधा बंद हो जाएगा। इससे किसानों के खेत चले जाएंगे, उसे सही दाम नहीं मिलेगा, छोटे दुकानदारों की दुकान बंद हो जाएगी। इससे देश का फूड सिक्योरिटी का सिस्टम नष्ट हो जाएगा और सालों बाद एक बार फिर देश के लोगों को भूख से मरना पड़ेगा। रूरल इकॉनमी पूरी तरह से बर्बाद हो जाएगी।'

राहुल ने सदन को संबोधित करते हुए सीधे तौर पर प्रधानमंत्री मोदी का नाम लेकर कहा, 'पीएम कहते हैं, उन्होंने तीन विकल्प दिए हैं, हां मैं मानता हूं कि आपने तीन विकल्प दिए हैं। ये विकल्प हैं भुखमरी, बेरोजगारी और आत्महत्या।' लोकसभा में राहुल के भाषण के दौरान जमकर हंगामा भी हुआ। राहुल जैसे ही बोलने के लिए खड़े हुए सत्तापक्ष के सांसदों ने नारेबाज़ी शुरू कर दी।