Shushant Singh Case: रिया चक्रवर्ती ने कहा मीडिया ट्रायल से बचाओ

Supreme Court: रिया चक्रवर्ती ने अपनी याचिका में कहा कि बिहार चुनाव के कारण सनसनीखेज बना रहे हैं केस, मीडिया ट्रायल निजता का उल्लंघन

Updated: Aug 11, 2020 01:03 AM IST

Shushant Singh Case: रिया चक्रवर्ती ने कहा मीडिया ट्रायल से बचाओ

नई दिल्ली। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में एक एफिडेविट दाखिल करते हुए कहा है कि उनका गलत तरीके से मीडिया ट्रायल किया जा रहा है और उन्हें सुशांत की मौत का दोषी ठहराया जा रहा है। रिया ने सुप्रीम कोर्ट से संरक्षण देने की मांग की है। रिया ने अपने एफिडेविट में यह भी कहा कि पिछले एक महीने में सुशांत की ही तरह दो और अभिनेताओं आशुतोष भाकरे और समीर शर्मा ने भी आत्महत्या की है, लेकिन इन मामलों को मीडिया जरा सी भी तवज्जो नहीं दी।

रिया ने अपनी याचिका में मीडिया ट्रायल को बिहार के आगामी विधानसभा चुनावों से भी जोड़ा। उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले में राजनीतिक फायदे के लिए उन्हें निशाना बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मीडिया ट्रायल होने से निजता के अधिकार का उल्लंघन हुआ है और उन्हें मानसिक आघात पहुंचा है। रिया ने अपनी याचिका में 2G और आरुषि तलवार हत्याकांड मामलों का भी हवाला दिया। उन्होंने कहा कि इन दोनों मामलों में मीडिया ने ऐसे ही आरोपियों को दोषी ठहरा दिया था, बाद में वे निर्दोष निकले थे। रिया ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट को उन्हें राजनीतिक एजेंडे की बलि चढ़ने से बचाना चाहिए।

आरोप तय होने के पहले ही हुई दोषी

अभिनेत्री ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामे में कहा है कि, 'इस मुद्दे को मीडिया में बढ़ा-चढ़ाकर दिखाया जा रहा है। मामले में गवाहों से मीडिया इस तरह से जिरह और बहस कर रही है जैसे कोर्ट हो। मुझपर कोई आरोप तय होने से पहले ही मुझे कसूरवार ठहराया जा रहा है। मुद्दे को लगातार सनसनीखेज बनाने के चक्कर मे मीडिया द्वारा मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है और मेरी निजता का लगातार उल्लंघन किया जा रहा है।'

बिहार चुनाव को लेकर हो रहा राजनीति

रिया ने मामले को बिहार चुनाव से जोड़ते हुए कहा है कि बिहार में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर ही इस मामले को इतना तूल दिया जा रहा है। उन्होंने हलफनामे में कहा, 'दुर्भाग्य से सुशांत की मृत्यु की दुखद घटना बिहार चुनाव के मद्देनजर उठाई जा रही है। पटना में दर्ज एफआईआर राजनीति से प्रेरित है। बिहार विधानसभा चुनाव की वजह से इस मामले में अनर्गल राजनीति हो रही है।'

उन्होंने आरोप लगाया है कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार की इस मामले में दिलचस्पी कि वजह से ही पटना में एफआईआर दर्ज हुई है। मामले को सीबीआई को ट्रांसफर करना भी राजनीति का हिस्सा है। इस मामले में बिहार पुलिस या सीबीआई को जांच करने का अधिकार ही नहीं है। अगर अदालत इस मामले में सीबीआई जांच का आदेश देती है तो मुझे कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन इसका जांच का क्षेत्राधिकार मुंबई होना चाहिए पटना नहीं।'

दो और अभिनेताओं ने की खुदकुशी, पर चर्चा नहीं

रिया चक्रवर्ती ने अपने हलफनामे में कहा कि पिछले 30 दिनों में दो अभिनेताओं आशुतोष भाकरे, और समीर शर्मा ने भी आत्महत्या की लेकिन मीडिया ने इनके मौत के उपर कोई खबर नहीं दिखाई। लेकिन सुशांत के निधन को मीडिया अनुपात से ज्यादा उठा दिया है।