Bihar Election 2020: तेजस्वी यादव ने कहा, नीतीश कुमार ने चिराग के साथ ठीक नहीं किया

Tejashwi-Chirag Bonhomie: तेजस्वी की राघोपुर सीट से बीजेपी के खिलाफ एलजेपी ने खड़ा किया उम्मीदवार, बीजेपी ने चिराग पर लगाया तेजस्वी से मिले होने का आरोप

Updated: Oct 19, 2020, 05:44 PM IST

Bihar Election 2020: तेजस्वी यादव ने कहा, नीतीश कुमार ने चिराग के साथ ठीक नहीं किया
Photo Courtesy: Facebook

पटना। महागठबंधन के सीएम पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव ने सोमवार को सीएम नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला है। आरजेडी नेता ने सीएम पर एलजेपी चीफ चिराग पासवान के साथ नाइंसाफी करने का आरोप लगाया है। तेजस्वी ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, 'नीतीश कुमार ने चिराग के साथ जो किया वह ठीक नहीं है। जब रामविलास जी हमारे बीच नहीं हैं और चिराग को उनकी सबसे ज्यादा जरूरत है तब नीतीश ने चिराग के साथ अन्याय किया।

चिराग को लेकर तेजस्वी का यह बयान ऐसे समय में आया है जब हाल में ही एलजेपी चीफ ने एक निजी समाचार चैनल से बातचीत के दौरान पूरे घटनाक्रम का जिक्र किया है। पासवान ने अपने पिता की अंतिम क्रिया के दौरान नीतीश के व्यवहार को लेकर खुलकर बात की थी। चिराग ने कहा था कि, 'जब मैं अपने पिता का शव लेकर आया तब सीएम नीतीश कुमार ने मुझे अनदेखा किया और अपमानित किया।'

और पढ़ें: डीएसपी का पद छोड़ राजनीति में आने वाले रामविलास, सीएम बनने से ऐसे चूके

चिराग ने इस दौरान बताया कि कैसे रामविलास पासवान के निधन की खबर सुनकर सभी दलों के नेता चाहे वह पक्ष के हों या विपक्ष के उनसे मिलने आए। सभी ने उन्हें फोन के माध्यम से और मिलकर ढाढस देने का काम किया और इन विपरीत परिस्थितियों में धैर्य रखने को कहा। लेकिन नीतीश ही ऐसे थे जो रामविलास जी के अंतिम संस्कार के दौरान पूरे समय उपस्थित तो जरूर रहे पर एक बार भी चिराग से बात नहीं की। चिराग ने यहां तक बताया कि उन्होंने नीतीश का अभिवादन भी किया लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला।

तेजस्वी के साथ क्या है चिराग का रिश्ता ?

राजनीति के मौसम विज्ञानी माने जाने वाले रामविलास के बेटे चिराग इस बार के बिहार विधानसभा चुनाव में अपनी अलग राह चल रहे हैं। यह बता पाना मुश्किल है कि चिराग किसे फायदा और किसे नुकसान पहुंचाना चाह रहे हैं। अबतक यह कहा जा रहा था कि चिराग की बीजेपी के साथ अंडरस्टैंडिंग है और बीजेपी की शह पर ही उन्होंने जेडीयू के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारे हैं । 

और पढ़ें: क्या बीजेपी की शह पर नीतीश का पत्ता काटने निकले हैं चिराग पासवान

हालांकि इन कयासों ने अब अलग मोड़ ले लिया है। एलजेपी ने बीजेपी के खिलाफ भी पांच सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं। इनमें सबसे महत्वपूर्ण राघोपुर विधानसभा है जहां से लालू के बेटे और महागठबंधन के सीएम पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव चुनाव लड़ रहे हैं। चिराग के इस फैसले के बाद से बीजेपी के नेता भी यह आरोप लगाने लगे हैं कि एलजेपी का आरजेडी के साथ गठबंधन है। वहीं तेजस्वी ने सोमवार शाम को एक रैली के दौरान यह कहकर इस बात को और हवा दे दी कि सरकार बनाने के लिए जरूरत पड़ने पर हम चिराग पासवान का भी समर्थन ले सकते हैं। हालांकि, चिराग ने इस बारे में कहा है कि बीजेपी के खिलाफ हमने उन सीटों पर ही अपने उम्मीदवार उतारे हैं, जहां हमारी पहले से तैयारी थी।