धरती पर फैला कोरोना तो सहारनपुर के बिल्डर ने चांद पर खरीदा प्लॉट, ऑनलाइन ट्रांजैक्शन कर हासिल की रजिस्ट्री

उत्तरप्रदेश के एक बिल्डर ने चांद पर प्लॉट ख़रीदा है, मां को कोरोना से बचाने के लिए चांद पर घर बनाने की है योजना

Updated: May 24, 2021, 07:31 PM IST

धरती पर फैला कोरोना तो सहारनपुर के बिल्डर ने चांद पर खरीदा प्लॉट, ऑनलाइन ट्रांजैक्शन कर हासिल की रजिस्ट्री

सहारनपुर। कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने देश में गरीब-अमीर सभी को प्रभावित किया है। बड़े से बड़े रसूखदार और पैसे वाले लोग भी इसके चपेट में आकर जान गंवा चुके हैं, लेकिन इससे बचने का कोई ठोस उपाय किसी को समझ नहीं आ रहा है। धरती पर फैले इन नकारात्मक हालातों से घबराकर एक बिल्डर ने चांद पर प्लॉट खरीद लिया है। उत्तरप्रदेश के इस बिल्डर ने अपनी मां को कोरोना से बचाने के लिए यह प्लॉट खरीदा है।

अश्विनी सुखीजा उर्फ आशु उत्तरप्रदेश के सहारनपुर जिले में कोतवाली सदर बाजार क्षेत्र के हकीकत नगर मोहल्ला में रहते हैं। लंबे समय से कंस्ट्रक्शन का कार्य कर रहे हैं।  उनका धंधा उत्तरप्रदेश से लेकर उत्तराखंड तक फैला है और वो फ्लैट बनाकर बेचते हैं। लंबे समय से धरती पर फ्लैट बेच रहे आशु ने अब अपने लिए चांद पर जमीन खरीदा है। 

यह भी पढ़ें: ब्लैक और व्हाइट फंगस के आतंक के बीच अब येलो फंगस की एंट्री, गाजियाबाद में आया पहला मामला

चांद पर आशु ने जमीन क्यों खरीदा इसका कारण जानकर आप हैरान हो जाएंगे। उन्होंने चांद पर जमीन इसलिए खरीदा है क्योंकि धरती पर चारों ओर जानलेवा कोरोना वायरस फैला हुआ है। ऐसे में उनका मानना है कि यदि चांद पर रहना शुरू कर दिया जाए तो इस महामारी से बचा जा सकता है। आशु ने यह जमीन खासतौर पर अपनी मां को कोरोना संक्रमण के चपेट में आने से बचाने के लिए खरीदा है। अब उनकी योजना चांद पर भी फ्लैट बनाने की है। 

आशु ने इस बारे में मीडिया को बताया कि चांद पर प्लाट खरीदने के लिए हाल ही में लुना सोसाइटी इंटरनेशनल की बिड हुई थी। बिड में ऑनलाइन माध्यम से बोली लगानी थी जिसमें उन्होंने भी हिस्सा लिया था। इस दौरान उन्हें एक एकड़ क्षेत्र के प्लॉट पर बोली लगाने का मौका मिला। आशु को इसके लिए पांच लाख रुपये का ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करना पड़ा। ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करने के बाद उन्हें सोसाइटी ने प्लॉट की रजिस्ट्री भी भेजी है, जिसमें उन्हें प्लॉट का मालिक बताया गया है। इसके साथ ही उन्हें सोसायटी की ओर से प्लॉट का नक्शा भी भेजा गया है।

यह भी पढ़ें: डेथ सर्टिफिकेट पर कोरोना से मौत का जिक्र क्यों नहीं, कैसे देंगे मुआवजा, SC का केंद्र से बड़ा सवाल

आशु का कहना है कि पिछले साल कोरोना वायरस के आने के बाद से रियल स्टेट का बिजनेस ठप हो गया है। ऐसे में उन्हें उम्मीद है कि अगले साल तक उन्हें इस प्लॉट के अच्छे पैसे भी मिल सकते हैं। बता दें कि कई संस्थाओं द्वारा चांद पर जमीन की रजिस्ट्री की जाती है। हालांकि, वहां फ्लैट बनाने की कोई व्यवस्था नहीं है। बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता शाहरुख खान के नाम पर भी चांद पर प्लॉट है। दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने भी चांद पर प्लॉट ले रखा था।