BCCI ने लगाई है कोहली के प्रेस कॉन्फ्रेंस पर रोक, विराट के कोच ने जताई चिंता

विराट के कोच राजकुमार शर्मा के हवाले से एक स्पोर्ट्स चैनल से कोहली के प्रेस कॉन्फ्रेंस में न आने को लेकर हैरानी जताई है, राजकुमार शर्मा ने इस बात के संकेत भी दिए हैं कि क्रिकेट बोर्ड ने विराट कोहली को प्रेस कॉन्फ्रेंस करने से रोका है

Publish: Jan 09, 2022, 01:22 PM IST

BCCI ने लगाई है कोहली के प्रेस कॉन्फ्रेंस पर रोक, विराट के कोच ने जताई चिंता
Photo Courtesy: Times Now

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम इस समय दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज खेल रही है। लेकिन टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम के मिले जुले प्रदर्शन के साथ साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में कप्तान विराट कोहली गैर मौजूदगी चर्चा का बड़ा विषय बनी हुई है। इस मसले पर खुद विराट कोहली के कोच राजकुमार शर्मा ने बड़ा बयान दिया है। कोहली के कोच ने इस बात की संभावना जताई है कि खुद भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने विराट कोहली के प्रेस कॉन्फ्रेंस करने पर रोक लगाई है। 

स्पोर्ट्स के एक चैनल ने कोहली के कोच राजकुमार शर्मा के हवाले से अपनी एक रिपोर्ट में कोहली के प्रेस कॉन्फ्रेंस से नदारद रहने पर कहा कि मुझे इसका कारण समझ नहीं आ रहा है। मैं खुद हैरान हूं। शायद बीसीसीआई ने मीडिया से बात करने या न करने को लेकर नियम बनाए हैं कि मैच से पहले और बाद में मीडिया से कौन बात करेगा या नहीं करेगा। राजकुमार शर्मा ने यह भी कहा कि यह भी हो सकता है कि बोर्ड ने टीम के मीडिया मैनेजर को ज्यादा ताकत दे दी है और मीडिया मैनेजर ही प्रेस कॉन्फ्रेंस को लेकर फैसला करते हैं। 

दरअसल विराट कोहली दक्षिण अफ्रीका दौरे पर पहुंचने के बाद से ही एक मर्तबा भी मीडिया से रूबरू नहीं हुए हैं। दौरे पर अब तक टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ और जोहान्सबर्ग में टीम इंडिया की कमान संभालने वाले केएल राहुल ही मीडिया से मुखातिब हुए हैं। इन सबके बीच विराट कोहली की प्रेस कॉन्फ्रेंस में गैरमौजूदगी को लेकर कई तरह के सवाल खड़े किए जा रहे हैं। 

जोहान्सबर्ग में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच से पहले जब टीम इंडिया के प्रमुख कोच राहुल द्रविड़ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी, तब उनसे भी कोहली के प्रेस कॉन्फ्रेंस में न आने को लेकर सवाल किया गया था। इस पर राहुल द्रविड़ ने कहा था कि केपटाउन में विराट कोहली अपने टेस्ट करियर का सौंवा टेस्ट मैच खेलेंगे। इससे पहले वह मीडिया से मुखातिब होंगे। 

लेकिन जोहान्सबर्ग में मैच शुरू होने से ठीक पहले अचानक विराट कोहली के चोटिल होने की खबर आ गई। विराट कोहली की जगह केएल राहुल को दूसरे टेस्ट में टीम इंडिया की कमान सौंप दी गई। अब केपटाउन में खेले जाने वाला तीसरा टेस्ट विराट कोहली का सौंवा टेस्ट मैच नहीं होगा। जिसके बाद से ही इस बात को लेकर असमंजस बरकरार है कि अब वे तीसरे टेस्ट मैच से पहले या बाद में मीडिया से मुखातिब होंगे या नहीं। 

कोहली के प्रेस कॉन्फ्रेंस करने पर क्यों मचा है बवाल 

विराट कोहली के प्रेस कॉन्फ्रेंस में न आने का संबंध विराट कोहली और बीसीसीआई के बीच जारी कथित विवाद से है। दक्षिण अफ्रीका के दौरे के लिए टीम इंडिया के एलान के साथ ही विराट कोहली को वनडे कप्तानी से हटा दिया गया। कोहली की जगह पर रोहित शर्मा को सीमित ओवरों में टीम इंडिया का पूर्णकालिक कप्तान नियुक्त कर दिया गया। 

विराट कोहली को कप्तानी से हटाए जाने के बाद से कई तरह के सवाल उठ खड़े हो गए। जिसके बाद बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने खुद मीडिया में कहा कि विराट कोहली से खुद उन्होंने टी ट्वेंटी की कप्तानी न छोड़ने की गुजारिश की थी। लेकिन विराट कोहली के मना करने के बाद टीम के सेलेक्टर्स व्हाइट बॉल क्रिकेट में दो अलग अलग कप्तानों के साथ खेलने के पक्ष में नहीं थे। 

यह भी पढ़ें : वनडे कप्तानी में बदलाव बनी पहेली, सौरव गांगुली के बयान से सहमत नहीं विराट के कोच

सौरव गांगुली के इस बयान के बाद खुद विराट कोहली के कोच राजकुमार शर्मा ने प्रतिक्रिया देते हुए गांगुली के बयान पर हैरानी जताई थी। राजकुमार शर्मा ने दावा किया था कि बोर्ड की ओर से कोहली को कप्तानी न छोड़ने की पेशकश नहीं की गई थी। दक्षिण अफ्रीका दौरे पर रवाना होने से पहले विराट कोहली जब मीडिया से मुखातिब हुए, तब उन्होंने खुद भी सौरव गांगुली के दावे को खारिज कर दिया। 

विराट कोहली के बयान के बाद भूचाल आ गया। इस संबंध में जब दोबारा सौरव गांगुली से प्रतिक्रिया मांगी गई, तब उन्होंने कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया। सौरव गांगुली ने कहा कि बोर्ड इस मसले को अपने तरह से हैंडल करेगा। इसके बाद बीसीसीआई के अधिकारियों ने इस विवाद को हैंडल करने के लिए एक बैठक की। जिसमें यह फैसला किया गया कि मीडिया से इस मसले पर बातचीत नहीं की जाएगी। इसके साथ ही इस बैठक को लेकर यह खबर भी आई कि बोर्ड दक्षिण अफ्रीका दौरे की समाप्ति से पहले विराट कोहली पर किसी तरह का एक्शन नहीं लेगा। 

यह भी पढ़ें : वनडे कप्तानी पर तकरार बरकरार, विराट कोहली के बयान के बाद बीसीसीआई की सफाई

बोर्ड की इस बैठक के बाद सौरव गांगुली का विराट कोहली को लेकर एक और बयान सामने आया था। जिसमें गांगुली ने कहा था कि उन्हें विराट कोहली का अग्रेशन बेहद पसंद है, लेकिन कोहली झगड़ा बहुत करते हैं। 31 दिसंबर को भारतीय टीम के चीफ सिलेक्टर चेतन शर्मा जब वनडे सीरीज की टीम के एलान के लिए मीडिया से मुखातिब हुए तब उनसे भी विराट कोहली के दावे को लेकर सवाल पूछा गया।

यह भी पढ़ें : विराट कोहली पर फिलहाल एक्शन नहीं लेगी BCCI, टेस्ट सीरीज की समाप्ति का इंतज़ार

इस पर चेतन शर्मा ने सौरव गांगुली के बयान से अपनी सहमति जताते हुए कहा था कि सेलेक्टर्स ने विराट कोहली के सामने टी ट्वेंटी की कप्तानी न छोड़ने की पेशकश की थी। इसके साथ ही कोहली को टी ट्वेंटी की कप्तानी छोड़ने का एलान वर्ल्ड कप के बाद करने के लिए कहा गया था। ताकि कोहली के इस फैसले से वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का प्रदर्शन प्रभावित न हो। इन तमाम घटनाक्रमों और बयानों को विराट कोहली के प्रेस कॉन्फ्रेंस में न आने से जोड़कर देखा जा रहा है।