Corona: कोरोना इलाज के रेट तय, फोन पर परामर्श के 25 सौ रुपए

chhattisgarh कोरोना: सामान्य मरीजों को 62 सौ, गंभीर मरीजों को 12 हजार व अति गंभीर मरीजों को 17 हजार रुपए प्रतिदिन के हिसाब से देने होंगे

Updated: Sep 06, 2020 02:40 PM IST

Corona: कोरोना इलाज के रेट तय, फोन पर परामर्श के 25 सौ रुपए
Photo Courtsey : TheFederal

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रदेश के निजी अस्पतालों में कोरोना इलाज के रेट तय कर दिए हैं। राज्य भर से कोरोना की फीस को लेकर प्राइवेट अस्पतालों के द्वारा की जा रही मनमानी की शिकायतों के बाद भूपेन्द्र बघेल सरकार ने यह फैसला लिया है। प्रदेश सरकार ने सुविधा के हिसाब से इन अस्पतालों को तीन श्रेणीयों में विभाजित किया है। एनएबीएच मान्यता प्राप्त निजी अस्पतालों में सामान्य मरीजों के इलाज के लिए 6,200 रुपए प्रतिदिन तय किया गया है।

निजी अस्पतालों में इलाजरत मरीजों को अपना शुल्क खुद वहन करना होगा। प्रदेश के अस्पतालों को सुपरस्पेशियालिटी सुविधाओं के आधार पर तीन श्रेणियों में बांटा गया है। श्रेणी ए में सरकार ने रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर, कोरबा, राजनांदगांव और रायगढ़ के अस्पतालों को रखा है। इन जिलों में निजी अस्पतालों में इलाज का रोजाना रेट 62 सौ रुपए से लेकर 17 हजार रुपए प्रतिदिन तय किए गए हैं। इसमें गंभीर मरीजों को 12 हजार रुपए प्रतिदिन देना होगा वहीं अति गंभीर मरीजों के लिए 17 हजार रुपए तय किए गए हैं।

बी-श्रेणी में सरगुजा, महासमुंद, धमतरी, कांकेर, जांजगीर-चांपा, बलौदाबाजार- भाटापारा, कवर्धा और बस्तर के अस्पतालों को रखा गया है। सुपर स्पेशियालिटी सुविधा वाले यहां के निजी अस्पताल मरीजों के इलाज के लिए ए-श्रेणी का 80% रेट ले सकेंगे। वहीं सी-श्रेणी में ए और बी वाले जिलों के अस्पतालों को छोड़कर बाकी सभी को रखा गया है। इस श्रेणी में आने वाले जिलों के अस्पताल ए-श्रेणी का 60 प्रतिशत शुल्क ले सकेंगे।

Click: Chhattisgarh PSC Exam 18 से 21 अक्टूबर तक होगी मुख्य परीक्षा

कॉल के जरिए परामर्श के लिए 25 सौ रुपए

कोरोना के बिना लक्षण वाले व कम लक्षण वाले ऐसे मरीज जो होम आइसोलेशन में रहकर अपना इलाज करवाना चाहते हैं उनके लिए वीडियो कॉलिंग व टेली कॉलिंग के जरिए चिकित्सीय परामर्श लेने का भी रेट तय किया गया है। इसके जरिए 10 दिनों तक चिकित्सीय परामर्श लेने का शुल्क 25 सौ रुपए तय किए गए हैं यानी कि 250 रुपए प्रतिदिन।