Raja Mahendra Bahadur Singh: वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजा महेंद्र बहादुर सिंह का कोरोना से निधन

Chhattisgarh Congress: सरायपाली रियासत के राजा और वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजा महेंद्र बहादुर सिंह ने 96 साल की उम्र में ली अंतिम सांस, वे 7 बार कांग्रेस विधायक और अविभाजित मध्य प्रदेश में मंत्री भी रहे थे

Updated: Oct 27, 2020, 10:43 PM IST

Raja Mahendra Bahadur Singh: वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजा महेंद्र बहादुर सिंह का कोरोना से निधन
Photo Courtesy: Grand News

 रायपुर। कांग्रेस के दिग्गज नेता और सरायपाली रियासत के राजा महेंद्र बहादुर सिंह का कोरोना संक्रमण की वजह से निधन हो गया है। उन्होंने सोमवार देर रात अंतिम सांस ली। वे 96 साल के थे। रायपुर के एक निजी अस्पताल में उनका कोरोना इलाज चल रहा था। वे साल 1957 से 7 बार चुनाव लड़े और जीते। वे अविभाजित मध्यप्रदेश में मंत्री, सात बार विधायक, राज्यसभा सांसद और छत्तीसगढ़ विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर के पद पर आसीन रहे। पिछले कुछ दिनों से राजा महेंद्र बहादुर सिंह बीमार थे। उन्हें कोविड 19 संक्रमण की वजह से रायपुर के रामकृष्ण अस्पताल में दाखिल किया गया था लेकिन उन्हें बचाया ना जा सका। महेंद्र बहादुर सिंह का तिम संस्कार मंगलवार को सरायपाली में होगा।

वे भारत की आजादी के समय से ही राजनीति में सक्रिय रहे। सरायपाली राजपरिवार से दो भाई महेंद्र बहादुर और वीरेंद्र बहादुर सिंह कांग्रेस के टिकट पर 1957 से कई चुनाव जीतते रहे। राजा देवेंद्र बहादुर सिंह के भतीजे बासना विधायक और वन विकास निगम अध्यक्ष हैं। 

 राजा महेंद्र बहादुर सिंह के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी से काफी घनिष्ठ संबंध थे। साल 2016 में यह अटकलें लगाई जा रही थीं कि वे कांग्रेस छोड़ कर जोगी की पार्टी ज्वाइन कर लेंगे। तब उन्होंने कहा था कि वे आजीवन कांग्रेसी थे और अंतिम सांस तक कांग्रेस में ही रहेंगे। राजा महेंद्र बहादुर सिंह निधन पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शोक व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है। छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने भी उनके निधन पर दुख जताया है।

राजा महेंद्र बहादुर सिंह अविभाजित मध्यप्रदेश में मंत्री, सात बार विधायक और दो बार राज्य सभा के सदस्य भी बने। वो छत्तीसगढ़ विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर भी रहे। वरिष्ठ होने की वजह से उन्हें छत्तीसगढ़ विधानसभा के पहले प्रोटेम स्पीकर होने का मौका मिला। 

राजा महेंद्र बहादुर सिंह अपनी जिंदादिली के लिए याद किए जाएंगे। उन्होंने एक अच्छे खिलाड़ी, चित्रकार और संगीतकार के रूप में भी काफी नाम कमाया।