भारत को 5 साल में 1 ट्रिलियन की डिजिटल इकॉनमी बनाने का लक्ष्य: केंद्रीय मंत्री

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा है कि मैन्युफैक्चरिंग और इंजीनियरिंग में बढ़ते अवसर भारत को 1 हजार अरब डॉलर की डिजिटल इकॉनमी बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे

Updated: Oct 09, 2021, 10:41 AM IST

भारत को 5 साल में 1 ट्रिलियन की डिजिटल इकॉनमी बनाने का लक्ष्य: केंद्रीय मंत्री
Photo Courtesy: India Today

नई दिल्ली। भारत को पांच ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनाने का पीएम मोदी के बहुप्रचारित लक्ष्य की असफलता के बाद अब केंद्र सरकार ने डिजिटल इकॉनमी पर जोर दिया है। केंद्र सरकार ने अब नया टारगेट सेट करते हुए अगले पांच साल में भारत को 1 ट्रिलियन डिजिटल इकॉनमी वाला देश बनाने की बात कही है।

दरअसल, केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री राजीव चंद्रशेखर सूचना प्रौद्योगिकी कंपनियों के संगठन नासकॉम के ‘डिजाइन और इंजीनियरिंग’ पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि मैन्युफैक्चरिंग, इंजीनियरिंग और डिजिटलाइजेशन के बढ़ते अवसर भारत को अगले पांच सालों में 1 ट्रिलियन डॉलर की डिजिटल अर्थव्यवस्था की संकल्पना को साकार बनाने में अहम भूमिका निभाएंगे।

यह भी पढ़ें: एयर इंडिया ने सरकार को किया टाटा बाय बाय, 68 साल बाद पुराने मालिक के पास

राजीव चंद्रशेखर के मुताबिक 50 सबसे इनोवेटिव ग्लोबल कंपनियों में से 70 फीसदी से अधिक कंपनियों के लिए भारत अनुसंधान विकास का केंद्र है। केंद्रीय मंत्री के मुताबिक पोस्ट कोविड वर्ल्ड ऑर्डर में भारत की भूमिका अहम है। उन्होंने कहा है कि अभी सबसे अच्छा आना बाकी है।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि इंजीनियरिंग, अनुसंधान और विकास क्षेत्र 31 अरब अमेरिकी डॉलर से अधिक का राजस्व उत्पन्न करता है। साथ ही एक हजार से अधिक दुनिया की कंपनियों ने विभिन्न क्षेत्रों में उत्पाद अनुसंधान एवं विकास के लिए भारत में सेंटर स्थापित किए हैं।