CM Shivraj Singh के गृह जिले में किसानों के वाहन कुर्क

High Electricity Bill in MP: लॉकडाउन से परेशान किसान अब ज़्यादा बिजली बिल से तंग, बिल नहीं भरा तो ट्रैक्टर, दोपहिया हुई कुर्क

Updated: Jul 30, 2020 08:45 PM IST

CM Shivraj Singh के गृह जिले में किसानों के वाहन कुर्क

भोपाल। एक तरफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बिजली बिल आधा करने की घोषणा चुके हैं वहीं मध्यप्रदेश में किसान अधिक बिजली बिल से परेशान हैं। अब तो बिजली बिल नहीं भरने वाले किसानों पर सख्ती शुरू हो गई है। बिजली विभाग ने बकाया बिल नहीं देने वालों की संपत्ति कुर्क करना शुरू कर दिया है।सीहोर जिले के बिजोरी गांव में बिजली विभाग ने करीब आधा दर्जन किसानों के वाहनों की कुर्की की। बिजली विभाग के अधिकारियों ने गरीब किसानों के दो पहिया वाहन, टैक्ट्रर और अन्य कृषि उपकरण कुर्क किए।

किसानों  के यहां कुर्की की कार्रवाई पर प्रदेश के पूर्व कृषि मंत्री सचिन यादव का गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने एक ट्वीट के जरिए प्रदेश की शिवराज सरकार पर निशाना साधा है।

 

अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान स्वयं को किसान पुत्र बताते हैं, वहीं उन्हीं के गृह जिले सीहोर में किसान अनाप शनाप बिजली बिल आने से परेशान हैं। गरीब किसानों ने बिल नहीं भरे तो उनके ट्रैक्टर और मोटर साइकिल की कुर्की की जा रही है।

पूर्व मंत्री सचिन यादव ने मुख्यमंत्री शिवराज पर किसानों को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। उन्होंने लिखा है कि बीजेपी सरकार किसानों को प्रताड़ित कर रही है, जनता आने वाले उपचुनावों में इसका करारा जवाब देगी।

Click MP: किसानों के ट्रैक्टर व बाइक कुर्क कर रहा है बिजली विभाग

तब शिवराज ने किया था घंटनाद आंदोलन

आज किसान परेशान है और सरकार उनकी सुनवाई नहीं कर रही है। जबकि विपक्ष में रहते हुए बीजेपी ने बिजली को मुद्दा बनाया था। सितम्बर 2019 में विदिशा में शिवराज सिंह चौहान ने घंटनाद आंदोलन कर लोगों से बिजली बिल न भरने की अपील की थी। तब शिवराज ने कहा था कि अगर कोई कनेक्शन काटता है तो मैं खुद आकर जोड़ूंगा। सरकार बदलने के बाद से बिजली गुल होने लगी, बिल ज़्यादा आने लगे, योजनाओं का लाभ मिलना बंद हो गया। उन्होंने कहा था कि हमने विदिशा आकर कमलनाथ सरकार के खिलाफ शंखनाद किया है। लोगों को बढ़ा हुआ बिजली बिल जमा करने की जरूरत नहीं है। अपने हक के लिए लोगों को लड़ना चाहिए। तब शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में बिजली बिलों की होली भी जलाई गई थी। 

सरकार बदली बिजली बिल भी बढ़े 

गौरतलब है कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में 100 यूनिट तक एक रुपए प्रति यूनिट की दर से बिजली का बिल आता था। सत्ता परिवर्तन के बाद बीजेपी सरकार ने कांग्रेस सरकार के फैसले को बदल दिया और बिजली महंगी कर दी है। जिससे किसानों के यहां कम खर्च करने पर भी ज्यादा बिजली का बिल आ रहा है।