अफगानिस्तान से बचने के लिए पाकिस्तान के एयरस्पेस से होकर अमेरिका गए मोदी, रिपोर्ट में दावा

पाकिस्तान ने ऐन मौके पर भारतीय प्रधानमंत्री के विमान को अपने एयरस्पेस से होकर गुजरने की दी इजाजत, इसी साल पाकिस्तानी पीएम को भी श्रीलंका जाने के लिए भारत ने दिया था अपना एयरस्पेस

Updated: Sep 23, 2021, 01:48 PM IST

अफगानिस्तान से बचने के लिए पाकिस्तान के एयरस्पेस से होकर अमेरिका गए मोदी, रिपोर्ट में दावा
Photo : Social Media

नई दिल्ली। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी तीन दिवसीय यात्रा पर अमेरिका पहुंच गए हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिका जाने के लिए पाकिस्तान के एयरस्पेस का इस्तेमाल किया। लेकिन पाकिस्तान होकर पीएम के अमेरिका जाने के पीछे की वजह अफगानिस्तान है। 

हिंदी के एक अखबार हिंदुस्तान ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि प्रधानमंत्री मोदी अफगानिस्तान से बचने के लिए पाकिस्तान के रास्ते अमेरिका गए। रिपोर्ट के मुताबिक खुद सरकार ने इसके लिए पाकिस्तान से अनुमति मांगी थी। जिसके बाद पाकिस्तान ने अपने एयरस्पेस से गुजरने की अनुमति प्रदान कर दी।

वहीं एक अन्य न्यूज़ वेबसाइट ने यह कहा है कि पाकिस्तान ने पीएम मोदी के विमान को अपने एयरस्पेस से गुजरने देने की इजाजत भी ऐन मौके पर दी। हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा भी किया जा रहा है कि अगर पाकिस्तान पीएम मोदी को अपने एयरस्पेस से अमेरिका जाने की अनुमति नहीं देता, तो ऐसी स्थिति में पीएम मोदी की अमेरिका रवानगी के लिए दूसरा रूट पहले से तैयार था। लेकिन इस संबंध में भारत सरकार की इस तरफ अब तक कोई जवाब सामने नहीं आया है।

यह भी पढ़ें : नमस्ते प्रिय साथी, प्रिय मित्र, PM मोदी के लिए फ्रांसीसी राष्ट्रपति का खास ट्वीट, विदेश यात्रा पर गए प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री मोदी के पाकिस्तानी एयरस्पेस से अमेरिका जाने की चर्चा इसलिए हो रही है क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी के 2019 के सऊदी अरब के दौरे पर जाने के लिए पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस नहीं खोला था। वहीं एक अन्य अखबार के मुताबिक 2019 में जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान ने प्रधानमंत्री मोदी के जर्मनी और अमेरिका दौरे के दौरान भी अपने एयरस्पेस से जाने की मंजूरी नहीं दी थी। जबकि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आइसलैंड दौरे पर जाने के समय भी पाकिस्तान ने यही रुख अपनाया था। 

पाकिस्तान ने क्यों दी अपने एयरस्पेस से गुजरने की इजाजत 

पाकिस्तान के एयरस्पेस से होकर पीएम मोदी के अमेरिका जाने की चर्चा तो है ही लेकिन साथ ही साथ यह सवाल भी उठ रहा है कि आखिर प्रधानमंत्री मोदी के पिछले दौरे के दौरान अपने एयरस्पेस से होकर गुजरने की अनुमति नहीं देने वाले पाकिस्तान के रुख में नरमी कैसे आ गई? इसके पीछे का कारण इसी साल हुआ पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान का श्रीलंका दौरा है। इमरान खान जब श्रीलंका के दौरे पर गए थे, तब भारत ने भी उन्हें अपने एयरस्पेस से होकर गुजरने की अनुमति दी थी। 

भारत और पाकिस्तान में पुलवामा हमले के बाद से ही बातचीत के सारे रास्ते बंद हैं। लेकिन वैश्विक महामारी कोरोना के आने के बाद दोनों पड़ोसी मुल्क के रिश्तों में खटास थोड़ी कम हुई है। इसी साल भारत ने पाकिस्तान को कोरोना वैक्सीन की आपूर्ति की थी। वहीं पाकिस्तान दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने इमरान खान को बधाई संदेश भी भेजा था। हालांकि प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि भारत पाकिस्तान के साथ मैत्रीपूर्ण रिश्ता चाहता है, लेकिन इस रिश्ते में आतंकवाद की कोई जगह नहीं होगी। दूसरी तरफ भारत में जब कोरोना की दूसरी लहर ने दहशत मचाई, तब खुद पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत को संदेश भेजते हुए कहा था कि इस लड़ाई में हम सब एक साथ हैं।  

यह भी पढ़ें : कोरोना से लड़ रहे भारत के लिए सरहद पार से आया संदेश, पाकिस्तानी पीएम ने कहा, इस लड़ाई में हम सब एक हैं

प्रधानमंत्री मोदी भारतीय समयानुसार करीब रात के साढ़े तीन बजे अमेरिका पहुंचे। अमेरिका पहुंचते ही भारतीय लोगों ने अपने देश के प्रधानमंत्री का आत्मीयता के साथ स्वागत किया। प्रधानमंत्री मोदी अमेरिका के तीन दिवसीय दौर पर गए हैं। इस दौरान पीएम संयुक्त राष्ट्र महासभा, क्वाड सम्मेलन में शामिल होंगे। साथ ही वे अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से चर्चा भी करेंगे। प्रधानामंरी मोदी के साथ साथ एनएसए अजीत डोभाल और विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला का एक प्रतिनिधिमंडल भी अमेरिका गया है।