शहबाज शरीफ बने पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री, पद संभालते ही अलापा कश्मीर राग

प्रधानमंत्री बनने के बाद शहबाज शरीफ ने कहा कि वह भारत के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं, लेकिन कश्मीर मुद्दे के समाधान के बिना इसे हासिल नहीं किया जा सकता है

Updated: Apr 11, 2022, 08:09 PM IST

शहबाज शरीफ बने पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री, पद संभालते ही अलापा कश्मीर राग

इस्लामाबाद। पूर्व पीएम नवाज शरीफ के छोटे भाई शहबाज शरीफ पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री बन गए हैं। पाकिस्तानी संसद में शहबाज शरीफ को निर्विरोध प्रधानमंत्री चुना गया। उन्हें 342 सदस्यों वाली नेशनल असेंबली में कुल 174 सांसदों का समर्थन हासिल था। लेकिन इमरान खान की पार्टी पीटीआई ने इस चुनाव का बहिष्कार किया।

पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री बनते ही कश्मीर का राग अलापना शुरू कर दिया। शहबाज शरीफ ने कहा कि वह भारत के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं, लेकिन कश्मीर मुद्दे के समाधान के बिना इसे हासिल नहीं किया जा सकता है। पाकिस्तान के 23वें प्रधानमंत्री के तौर पर अपने निर्वाचन के बाद शहबाज शरीफ ने सोमवार को संसद में कहा कि पत्र विवाद में अगर साजिश साबित हो गया, तो मैं इस्तीफा देकर घर चला जाऊंगा।

शरीफ ने कहा कि अल्लाह ने पाकिस्तान को बचा लिया है। उन्होंने कहा कि लंबे समय से यह झूठ बोला जा रहा था कि अविश्वास प्रस्ताव साजिश का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि यह एक झूठ था, जो पूरी कौम से लगातार बोला जा रहा था। उन्होंने कहा कि मैं सुप्रीम कोर्ट को धन्यवाद देता हूं कि उसने संविधान की रक्षा की और देश में कानून का राज स्थापित करने में मदद की।

शहबाज शरीफ ने आगे कहा कि यह लगातार झूठ बोला गया कि 7 मार्च को विदेश से खत आया था और उसके बाद अविश्वास प्रस्ताव लेकर आए थे। लेकिन हम बता दें कि अविश्वास प्रस्ताव लाने का फैसला काफी पहले ही लिया जा चुका था। शहबाज शरीफ ने इस मौके पर अपने बड़े भाई और पूर्व नवाज शरीफ को भी याद किया। उन्होंने कहा कि मियां नवाज शरीफ ने मुझे लगातार गाइड किया। 

शहबाज शरीफ के निर्वाचन से पहले इमरान खान ने नेशनल असेंबली से ही इस्तीफा देते हुए सड़कों पर लड़ाई का ऐलान कर दिया। उन्होंने कहा कि मैं नेशनल असेंबली में चोरों के साथ नहीं बैठ सकता। इसके बाद उनकी पार्टी पीटीआई ने भी चुनाव का बहिष्कार किया, जिससे शहबाज निर्विरोध निर्वाचित हुए।