Omicron पर WHO ने दुनिया को चेताया, बढ़ते केस ज्यादा खतरनाक वेरिएंट को दे सकते हैं जन्म

विश्व स्वास्थ्य केंद्र की वरिष्ठ अधिकारी कैथरीन स्मॉलवुड ने कहा कि बढ़ते संक्रमण दर का विपरीत असर हो सकता है, क्योंकि इस बात की संभावना ज्यादा है कि यह नए वेरिएंट को जन्म से सकता है

Updated: Jan 05, 2022, 09:38 AM IST

Omicron पर WHO ने दुनिया को चेताया, बढ़ते केस ज्यादा खतरनाक वेरिएंट को दे सकते हैं जन्म

स्टॉकहोम: दुनियाभर में ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों से एक नए और ज्यादा घातक वेरिएंट के उभरने का खतरा बढ़ गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मंगलवार को यह चेतावनी दी। स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक यह ओमिक्रॉन वेरिएंट दुनियाभर में जंगल की आग की तरह फैल रहा है।

हालांकि इससे पहले ओमिक्रॉन को कम गंभीर वेरिएंट माना जा रहा था और यह भी दावा किया जा रहा था कि इस नए वैरिएंट से जीवन सामान्य की ओर बढ़ रहा है। लेकिन डब्ल्यूएचओ के वरिष्ठ आपात अधिकारी कैथरीन स्मॉलवुड ने चेतावनी दी कि अगर सावधानी नहीं बरती गई तो संक्रमण की बढ़ती दर दुनिया में विपरीत प्रभाव डाल सकती है।

यह भी पढ़ें: MP में फूटा कोरोना बम, इंदौर में एक दिन में मिले 319 मामले, भोपाल में 126

कैथरीन ने AFP को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि जिस तेजी से ओमिक्रॉन बढ़ रहा है, उतना ही ज्यादा ट्रांसमिट हो रहा है और उतनी ही ज्यादा रिप्लिकेट होता है, उतनी ही अधिक संभावना है कि यह एक नया वेरिएंट उत्पन्न कर सकता है। अब, ओमिक्रॉन जानलेवा है, यह मौत का कारण बन सकता है... हो सकता है डेल्टा की तुलना में थोड़ा कम, लेकिन कौन कह सकता है कि अगला वेरिएंट क्या कर सकता है।'

कैथरीन ने बताया कि महामारी की शुरुआत के बाद से यूरोप में अब तक 100 मिलियन (10 करोड़) से अधिक कोविड-19 के मामले दर्ज हो चुके हैं और डराने वाली बात ये है कि दिसंबर 2021 के अंतिम सप्ताह में ही 5 मिलियन (50 लाख) से अधिक नए मामले दर्ज हुए हैं। उन्होंने कहा 'हम एक बहुत ही खतरनाक चरण में हैं, हम पश्चिमी यूरोप में संक्रमण दर में काफी वृद्धि देख रहे हैं और इसका पूरा प्रभाव अभी तक स्पष्ट नहीं है।'