गुफा मंदिर में सीएम ने किया महामृत्युंजय मंत्र का जाप, वीडी शर्मा ने की महाकाल की पूजा

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल स्थित गुफा मंदिर में महामृत्युंजय मंत्र का जाप किया, वहाँ पहुँच कर उन्होंने पीएम की सुरक्षा में हुई कथित चूक का ठीकरा पंजाब की कांग्रेस सरकार पर फोड़ा

Publish: Jan 06, 2022, 03:36 PM IST

गुफा मंदिर में सीएम ने किया महामृत्युंजय मंत्र का जाप, वीडी शर्मा ने की महाकाल की पूजा
Photo Courtesy : ANI

भोपाल। प्रधानमंत्री मोदी की दीर्घायु के लिये महामृत्युंजय मंत्र का जाप करने के लिये सीएम शिवराज सिंह चौहान राजधानी भोपाल के गुफा मंदिर में पहुँच गये। गुफा मंदिर पहुँच कर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दीर्घायु जीवन के लिये कामना की। इस दौरान बीजेपी के कई विधायक भी सीएम शिवराज के साथ मौजूद रहे। 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के अलावा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष प्रधानमंत्री की दीर्घायु के लिये प्रार्थना करने के लिये सीधे उज्जैन पहुँच गये। वीडी शर्मा ने उज्जैन के महाकाल मंदिर पहुँच कर प्रधानमंत्री की दीर्घायु की कामना की। हालांकि सोशल मीडिया पर लोग बीजेपी की मध्य प्रदेश इकाई की ओर से की गई इस सारी कवायद को महज़ एक सियासी ड्रामा करार दे रहे हैं। वहीं कुछ लोग इसे मध्य प्रदेश बीजेपी में मची मुख्यमंत्री की कुर्सी की होड़ से भी जोड़कर देख रहे हैं। एक यूज़र ने सोशल मीडिया पर लिखा कि महामृत्युंजय का जाप करने के मामले में भी शिवराज जी पीछे रह गये। वीडी शर्मा ने महाकाल मंदिर पहुँच कर यह दर्शा दिया कि प्रधानमंत्री को लेकर सबसे ज़्यादा चिंतित वही रहते हैं और इसलिये सीएम पद के असली हकदार भी वही हैं।  

यह भी पढ़ें ः बुल्लीबाई का क्रिएटर असम में गिरफ्तार, भोपाल के इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ता है आरोपी छात्र

वहीं सीएम शिवराज ने गुफा मंदिर पहुँच कर एक बार फिर कथित चूक का सारा ठीकरा पंजाब की कांग्रेस सरकार पर फोड़ा। सीएम शिवराज ने कहा कि पंजाब की कांग्रेस सरकार ने जानबूझकर प्रधानमंत्री की सुरक्षा को खतरे में डाला। 

यह भी पढ़ें ः पीएम के लिए महामृत्युंजय का जाप करेंगे सीएम शिवराज, लोग बोले एक जाप अपनी कुर्सी के लिए भी करें

दरअसल यह सारी कवायद बुधवार को पंजाब में प्रधानमंत्री का दौरा रद्द होने के बाद शुरु हुए हाईवोल्टेज सियासी ड्रामे के मद्देनज़र की जा रही है। बीजेपी प्रधानमंत्री की सुरक्षा में कथित तौर पर हुई चूक का दोषी पंजाब की कांग्रेस सरकार को ठहरा रही है। जबकि पंजाब सरकार प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई किसी भी प्रकार की चूक के दावे को साफ तौर पर खारिज कर रही है। इसके साथ ही लोग इसे पूरे घटनाक्रम को स्क्रिपटेड भी बता रहे हैं। लोगों का कहना है कि फिरोज़पुर में होने वाली पीएम की रैली में अधिकतर कुर्सियां खाली पड़ी हुई थीं। लोग प्रधानमंत्री की रैली में शिरकत करने के लिये नहीं आए थे। इसी वजह से एक असफल रैली के तथ्य को छिपाने के लिये सुरक्षा में चूक का पूरा घटनाक्रम रचा गया।