MP में सांप्रदायिक नफरत का शिकार हुआ 10 वर्षीय मासूम, जय श्री राम नहीं बोलने पर की मारपीट

घर से ट्यूशन के लिए निकला था 10 साल का बच्चा, रास्ते में रोककर आरोपी ने की पिटाई, जबरन लगवाए श्री राम के नारे, बच्चे के भविष्य को लेकर पैरेंट्स चिंतित

Updated: Dec 29, 2022, 07:16 PM IST

MP में सांप्रदायिक नफरत का शिकार हुआ 10 वर्षीय मासूम, जय श्री राम नहीं बोलने पर की मारपीट

खंडवा। मध्य प्रदेश के खंडवा से सांप्रदायिक नफरत का एक शर्मनाक मामला सामने आया है। यहां एक 10 वर्षीय मासूम की सिर्फ इसलिए पिटाई की गई, क्योंकि उसने जय श्री राम बोलने से मना कर दिया था। इतना ही नहीं उसे थप्पड़ मार-मारकर जय श्री राम बोलने के लिए मजबूर भी किया गया। 

दरअसल, मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पूर्व धार्मिक ध्रुवीकरण की कोशिशें तेज हो गई है। समाज पर इसका नकारात्मक असर भी दिखने लगा है। खंडवा जिले के पंधाना में 10 साल का स्कूली बच्चा इसका शिकार बना। बच्चे ने बताया कि वह घर से रोजाना की तरह बुधवार शाम 4:30 बजे ट्यूशन जा रहा था। रास्ते में अजय भील ने रोक लिया और जय श्री राम बोलने को कहा।

बच्चे के मुताबिक उसने कहा कि नहीं बोलूंगा। इतना सुनते ही आरोपी अजय भील ने उसे दो चांटे मारे और फिर से कहा कि, 'जय श्री राम बोल... अगर नहीं बोलेगा तो इसी तरह मारता रहूंगा। तब उसने डर के मारे ‘जय श्री राम’ बोल दिया। इस घटना से बच्चा इतना डर गया कि वह कोचिंग भी नहीं जा सका और वापस घर आ गया। घर आकर उसने मम्मी-पापा को पूरी बात बताई।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में पीएम आवास योजना में करोड़ों का घोटाला, बीजेपी के पूर्व मंत्री ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

इस घटना के बाद बच्चे के पिता अपने लाडले के भविष्य को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने कहा कि, 'हमें दुख इस बात का नहीं कि मेरी धार्मिक भावनाएं आहत हुईं, बल्कि भविष्य के लिए डर है कि कहीं भविष्य में रास्ता रोककर अनहोनी न कर दे। इस तरह की मूर्खतापूर्ण घटना पर पुलिस को कार्रवाई करना चाहिए।' बहरहाल मामला सामने आने के बाद पंधाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 295-A, 323 के तहत केस दर्ज कर लिया है।