गाय को ट्रैक्टर ट्रॉली पर लटका कर ले गए नगर परिषद के कर्मचारी, अमानवीयता का कांग्रेस ने किया विरोध

देवास ज़िले के नेमावर क्षेत्र का मामला, मृत गाय को ट्रैक्टर ट्रॉली से लटका कर ले जाते हुए नज़र आए नगर निगम के कर्मचारी, कांग्रेस ने कहा, यही है खुद को गौ भक्त बताने वाली सरकार की हकीकत

Updated: Sep 29, 2021, 04:28 PM IST

गाय को ट्रैक्टर ट्रॉली पर लटका कर ले गए नगर परिषद के कर्मचारी, अमानवीयता का कांग्रेस ने किया विरोध

देवास। आगर-मालवा के बाद अब देवास का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें एक मृत गाय को ट्रैक्टर-ट्रॉली से लटकाकर ले जाया जा रहा है। मृत पशु के साथ अमानवीयता का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। कांग्रेस ने इस घटना को शर्मनाक करार देते हुए शिवराज सरकार की आलोचना की है। कांग्रेस ने कहा है कि खुद को गौ भक्त बताने वाली सरकार की हकीकत इस शर्मनाक और दर्दनाक तस्वीर से ज़ाहिर हो रही है।  

कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने वायरल वीडियो को अपने ट्विटर हैंडल पर साझा करते हुए कहा कि आगर-मालवा के बाद अब देवास के नेमावर में गाय ट्रैक्टर-ट्रॉली के पीछे बेरहमी से लटकाए जाने का मामला सामने आया है। नेमावर नगर परिषद के कर्मचारी गाय के पैर बांधकर उसे बेरहमी से लटका कर ले जा रहे हैं। सलूजा ने कहा कि खुद को गौ भक्त बताने वाली सरकार की हकीकत यही है।  

दरअसल वायरल वीडियो में एक तेज़ रफ्तार ट्रैक्टर-ट्रॉली दिख रही है। जिसके पीछे एक भूरे रंग की गाय लटकी हुई दिख रही है। गाय को रस्सी से बांधा गया है और ट्रैक्टर-ट्रॉली तेज़ रफ्तार में है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वीडियो में नज़र आ रही गाय मृत है।मृत गाय के साथ नगर निगम के द्वारा अमानवीयता बरते जाने का चौतरफा विरोध शुरू हो गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हिंदू संगठन बजरंग दल ने प्रशासन को ज्ञापन सौंपा है और दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है।  

नेमावर जैसा ही एक मामला आगर-मालवा में सामने आया था। आगर-मालवा में नगर पंचायत की ट्रैक्टर ट्रॉली से मृत गायों को बांध कर सड़क पर घसीटते देखा गया था। वीडियो वायरल होने के बाद नगर परिषद के सीएमओ ने दो कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया था।