इंदौर में बढ़ी प्लेटलेट्स की डिमांड, दूसरे शहरों से आए डेंगू मरीजों की वजह से हो रही दिक्कत

इंदौर में एक महीने में 500 से ज्यादा यूनिट प्लेटलेट्स का हुआ उपयोग, मंदसौर, रतलाम, और ग्रामीण इलाकों से इलाज के लिए आ रहे मरीज, शहर में 13 नए मरीजों के बाद कुल मरीजों का आंकड़ा 563 पहुंचा

Updated: Oct 09, 2021, 01:10 PM IST

इंदौर में बढ़ी प्लेटलेट्स की डिमांड, दूसरे शहरों से आए डेंगू मरीजों की वजह से हो रही दिक्कत
Photo Courtesy: tv 9 bharatvarsh

इंदौर। मध्यप्रदेश में डेंगू के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। जिसकी वजह से मरीजों को अस्पताल में भर्ती करना पड़ रहा है। मंदसौर डेंगू का हॉट स्पॉट बना हुआ है। इंदौर के आसपास के डेंगू मरीज इलाज के लिए इंदौर का रुख कर रहे हैं। जिसकी वजह से शहर के सबसे बड़े अस्पताल MYH में प्लेटलेट्स की मांग लगातार बढ़ती जा रही है। इंदौर में देवास, धार, रतलाम, मंदसौर, बड़वानी समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण इलाकों के मरीज पहुंच रहे हैं। मरीजों के लिए प्लेटलेट्स की डिमांड बढ़ने से यहां उसकी शार्टेज होने लगी है।

मीडिया रिपोर्ट्स का दावा है कि इंदौर में डेंगू के इलाज में करीब एक महीने में 500 से ज्यादा प्लेटलेट्स यूनिट का उपयोग किया जा चुका है। मध्यप्रदेश में डेंगू मरीजों का कुल आंकड़ा 6 हजार से ज्यादा हो चुका है।बीते 24 घंटों में इंदौर में डेंगू के 13 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। जिसके बाद कुल मरीजों का आंकड़ा 563 हो गया है। 20 एक्टिव मरीज हैं, दो का घर में जबकि 18 मरीजों का अस्पतालों में इलाज जारी है। इंदौर में डेंगू से अब तक एक महिला की मौत हुई है। इंदौर के अस्पतालों में इलाज के लिए मरीज मंदसौर, महू, रतलाम से ज्यादा आ रहे हैं। जिनके लिए सबसे बड़े अस्पताल महाराजा यशवंतराव अस्पताल याने MYH के ब्लड बैंक से प्लेटलेट्स यूनिट उपलब्ध करवाई जा रही है। एक महीने में करीब 500 से ज्यादा प्लेटलेट्स यूनिट के माध्यम से लोगों की जान बचाने का काम किया गया है। 

और पढ़ें: मध्यप्रदेश में 6 हजार से ज्यादा हुए डेंगू मरीज, 1100 से ज्यादा मरीजों के साथ मंदसौर की हालत चिंताजनक

छोटे शहरों और कस्बों में डेंगू के इलाज में उपयोगी प्लेटलेट्स वक्त पर नहीं मिल पाती यही वजह है कि लोग अपने मरीजों को लेकर इंदौर भोपाल जैसे शहरों की और भाग रहे हैं। सरकारी के अलावा प्राइवेट अस्पतालों में भी रोजाना करीब दो दर्जन से ज्यादा प्लेटलेट्स यूनिट मरीजों को चढ़ाई जा रही हैं। प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर की आहट के बीच डेंगू ने लोगों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी है। सरकार द्वारा डेंगू से जंग जनता के संग अभियान चलाया जा रहा है। जिससे लोगों में साफ-सफाई के प्रति जागरूकता आए, और डेंगू के मच्छरों को पनपने से रोका जा सके।