Digvijaya Singh : NSUI नेता को श्रद्धांजलि देने मंडला पहुंचे

वरिष्‍ठ नेता दिग्विजय सिंह ने दिवंगत छात्र नेता के परिजनों को आश्वस्त किया कि समूची कांग्रेस सोनू के परिवार के साथ है

Updated: Jun-29, 2020, 11:58 PM IST

Digvijaya Singh :  NSUI नेता को श्रद्धांजलि देने मंडला पहुंचे

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह सोमवार को मण्डला पहुंचे। वे कांग्रेस के छात्र संगठन NSUI के मण्डला जिले के महासचिव सोनू परोचिया के निधन पर शोक व्‍यक्‍त करने उनके घर गए। सोनू परोचिया का बजरंग दल कार्यकर्ता द्वारा हत्या पर विरोध दर्ज कराते हुए सिंह ने सोनू के परिजनों से मुलाकात कर शोक संवेदना व्यक्त की। इसके साथ ही उन्होंने परिवार को प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ की वो चिट्ठी भी सौंपी जिसमें उन्होंने घटना पर दुख जताते हुए परिवार को आर्थिक मदद का आश्वासन दिया है। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता दिग्विजय सिंह ने परिजनों को आश्वस्त किया कि वे तथा समूची कांग्रेस सोनू के परिवार के साथ खड़ी है और हर परिस्थिति में परिजनों को न्याय दिलाकर रहेंगे। सिंह के साथ वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता रामेश्‍वर नीखरा भी थे।

मंडला में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि लोग खुलेआम हथियार लेकर घूम रहे हैं। उसके साथ सोशल मीडिया पर अपनी फोटो डाल रहे हैं। श्री सिंह ने इस तरह की घटनाओं पर सवाल उठाए हैं और पुलिस से मुस्तैदी की उम्मीद करते हुए जल्द से जल्द कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है- "शांतिप्रिय मंडला में कई वर्षों से जमे पुलिस कर्मियों के संरक्षण में अवैध शराब रेत खनन सट्टा जुआ खुले रूप से चला हुआ है। इन्हें ज़िले से बाहर पदस्थ करना होगा और प्रशासन को हर प्रकार के अवैध कारोबार पर सख़्ती से रोक लगाना होगा।"

गौरतलब है कि मण्डला में रविवार रात एनएसयूआई जिला महासचिव सोनू परोचिया को पहले गाड़ी से टक्‍कर मारी गई फिर गोली मारकर हत्या कर दी गई। महाराजपुर थाने के पोंडी गांव में देर रात 1 बजे के लगभग यह घटना हुई। एनएसयूआई जिला महासचिव सोनू परोचिया अपनी मोपेड से जा रहे थे तब ही एक गाड़ी ने उन्‍हें टक्‍कर मार दी। जब तक वह संभल पाता तब तक गोली मार कर हत्या कर दी गई। पुलिस की तफ्तीश में शुरुआती तौर पर सोनू परोचिया की हत्या में बजरंग दल के एक कार्यकर्ता हैप्पी यादव का नाम सामने आ रहा है। घटना में उसके साथ तीन लोग और थे। इसके पहले गुरुवार रात विदिशा में कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव के दफ्तर पर भी भाजपा कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ कर हवाई फायरिंग की थी।