यदि वह मुझे मिल गया तो मैं उसे मसल दूंगा, प्रीतम लोधी पर भड़के धीरेंद्र शास्त्री, लोगों से की हिंसक अपील

MP वालों... अगर तुम सच्चे सनातनी हो तो उस धूमकेतु को मजा जरूर चखाना, वरना चूड़ियां पहन लो: ब्राह्मणों के खिलाफ टिप्पणी करने वाले प्रीतम लोधी को लेकर धीरेंद्र शास्त्री का उन्मादी प्रवचन

Updated: Aug 20, 2022, 03:36 PM IST

यदि वह मुझे मिल गया तो मैं उसे मसल दूंगा, प्रीतम लोधी पर भड़के धीरेंद्र शास्त्री, लोगों से की हिंसक अपील

भोपाल। बीजेपी से निष्कासित नेता प्रीतम लोधी के बयान पर बवाल थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। इसी बीच अब इस विवाद में बागेश्वर धाम महाराज के नाम से मशहूर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री भी उतर आए हैं। उन्होंने कहा है कि वह नेता यदि मुझे मिल गया तो मैं उसे मसल दूंगा। इतना ही नहीं उन्होंने प्रदेश के लोगों से हिंसक आह्वान करते हुए कहा कि सच्चे सनातनी हो तो उसे मजा जरूर चखाना।

दरअसल, उमा भारती के करीबी नेता प्रीतम लोधी ने कथावाचकों को लेकर कहा था कि वे 8 घंटे बर्बाद करते हैं और सार कुछ नहीं निकलता। इसपर गुस्सा जाहिर करते हुए बागेश्वर धाम महाराज ने कहा कि, 'कथा से 'बाप' निकलता है। कथा, ब्राह्मण और व्यास नहीं होते तो तू अपने बाप (पिता) को नहीं पहचान पाता। संसार राम और कृष्ण के बारे में नहीं जान पाता। इस संसार को ब्राह्मणों और कथावाचकों की जरूरत है। कथावाचकों की वजह से लाखों लोगों के घर टूटने से बच जाते हैं। लोग नशा करना छोड़ देते हैं।'

उन्होंने लोगों को उकसाते हुए कहा, 'यदि वह मुझे मिल गया तो मैं उसे मसल दूंगा। मध्य प्रदेश वालों को कहना चाहता हूं कि तुम्हें ऐसे लोगों को सबक सिखाना है। एमपी वालों... अगर सच्चे सनातनी हो तो उस धूमकेतु को मजा जरूर चखाना। वरना चूड़ियां पहन लो।' इस दौरान धीरेंद्र शास्त्री यह भी कहते हैं कि मैं किसी समुदाय या जाति के खिलाफ हिंसा करने को नहीं कह रहा हूं, लेकिन ऐसे लोगों का बहिष्कार जरूरी है। 

उधर बीजेपी ने प्रीतम लोधी को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। प्रीतम लोधी ने अपने बयान को लेकर लिखित और मौखिक माफी भी मांगी थी। हालांकि, ब्राह्मण समाज के दबाव के कारण बीजेपी ने लोधी को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया।