IT Raids: बिल्डर के वाहन पर सवार दिखे मंत्री अरविंद भदौरिया

Faith Builders: कांग्रेस ने कहा है कि शिवराज जी, हर गिरोह में हिस्सेदारी है, बेहद भ्रष्ट सरकार तुम्हारी है

Updated: Aug-21, 2020, 06:54 PM IST

IT Raids: बिल्डर के वाहन पर सवार दिखे मंत्री अरविंद भदौरिया

भोपाल। आयकर छापों से चर्चा में आए फेथ बिल्डर्स समेत कई फर्म के मालिक हैं राघवेंद्र सिंह की मध्य प्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया से नजदीकियाँ उजागर हो रही हैं। अब पता चला है कि छापे में जिस बिल्डर के पास अरबों की अवैध संपत्ति का पता चला उस राघवेंद्र सिंह के नाम पर पंजीकृत वाहनों का उपयोग शिवराज सरकार के मंत्री अरविंद भदौरिया करते हैं। कांग्रेस ने सोशल मीडिया पर इन तस्वीरों को शेयर किया है। 

फेथ बिल्डर्स के मालिक राघवेंद्र सिंह की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और मंत्री अरविंद भदौरिया के साथ की तस्वीरें वायरल होने के बाद उनके राजनीतिक संबंध उजागर हो गए हैं। कांग्रेस बिल्डर राघवेंद्र सिंह के बीजेपी के साथ रिश्ते को लेकर आक्रामक हो गई है।

सोशल मीडिया पर फेथ बिल्डर्स के मालिक राघवेंद्र सिंह की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और मंत्री अरविंद भदौरिया के साथ की तस्वीरें वायरल होने के बाद कांग्रेस पूछ रही है कि बिल्डर राघवेंद्र सिंह तोमर का बीजेपी नेताओं से क्या रिश्ता है। कांग्रेस ने कहा है कि जिस बिल्डर के यहाँ छापे पड़े, अरबों की अवैध संपत्ति का पता चला, उसके नाम से पंजीकृत वाहनों का उपयोग शिवराज सरकार के मंत्री अरविंद भदौरिया करते हैं। शिवराज जी, हर गिरोह में हिस्सेदारी है, बेहद भ्रष्ट सरकार तुम्हारी है।

 

कांग्रेस नेता केके मिश्रा ने भी बिल्डर और बीजेपी नेताओं के रिश्ते पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने ट्वीट किया है कि शिवराजसिंह जी,आप व आपकी पार्टी (ई) मानदार मूल्यों की पक्षधर है? फेथ बिल्डर पर आयकर छापे के दौरान अरबों की संपत्ति के प्रमाण सामने आ रहे! आप, मंत्री अरविंद भदौरिया के राघवेंद्रसिंह तोमर के करीबी संबंध भी प्रामाणिक तौर पर सामने है! 24 धंटे बाद भी खामोश?

ग़ौरतलब है कि मध्य प्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया के करीबी माने जाने वाले बिल्डर्स राघवेंद्र सिंह तोमर और पीयूष गुप्ता चूड़ीवाला के यहाँ आयकर विभाग की कार्रवाई में बड़ी मात्रा में बेनामी संपत्तियों का खुलासा हुआ है। करीब 20 ठिकानों पर हुई छापे मार कार्रवाई में अब तक 1 करोड़ रुपए की नगदी और लगभग 200 करोड़ रुपए मूल्य की बेहिसाब प्रॉपर्टी मिली है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार फेथ ग्रुप, रियल एस्टेट और हॉस्पिटेलिटी के कारोबार से जुड़े कारोबारी राघवेंद्र सिंह तोमर और पीयूष गुप्ता चूड़ीवाला के यहाँ से कई दस्तावेज बरामद हुए हैं।