ग्वालियर: प्रशासन ने तोड़ा मुस्लिम युवक का मकान, हिंदू युवती ने लगाया था लव जिहाद का आरोप

मध्य प्रदेश के ग्वालियर की एक युवती ने सोमवार को डबरा निवासी एक मुस्लिम युवक पर धर्म छिपाकर विवाह करने का आरोप लगाया था, प्रशासन ने तत्काल आरोपी का घर तोड़ दिया

Updated: Apr 26, 2022, 07:09 PM IST

ग्वालियर: प्रशासन ने तोड़ा मुस्लिम युवक का मकान, हिंदू युवती ने लगाया था लव जिहाद का आरोप

ग्वालियर। मध्य प्रदेश के ग्वालियर की एक युवती ने डबरा निवासी एक मुस्लिम युवक पर लव जिहाद का आरोप लगाया था। मामला सामने आने के बाद प्रशासन ने तत्काल युवक का मकान ध्वस्त कर दिया। युवती ने आरोपी से अपनी जान को खतरा बताया था जिसके बाद उसे सुरक्षा मुहैया करवाई गई है।

जानकारी के मुताबिक डबरा के जंगीपुरा की संकरी गलियों में मुस्लिम युवक का मकान को तोड़ने के लिए प्रशासनिक अमला सोमवार को बुलडोजर लेकर पहुंचा। हालांकि, अंदर गली में बुलडोजर नहीं जा सका। इसके बाद कर्मचारियों ने हथौड़ों की मदद से पूरा मकान तोड़ दिया। जिस युवक इमरान का घर तोड़ा गया उस पर आरोप है कि उसने अपना धर्म छिपाकर एक हिंदू धर्म की लड़की से शादी की थी।

यह भी पढ़ें: किस्मत से सांसद बने वीडी शर्मा न दें कमल नाथ को ज्ञान, विधानसभा अध्यक्ष को लिखे पत्र पर कांग्रेस का वार

ग्वालियर निवासी 22 वर्षीय लड़की के मुताबिक पिछले साल जनवरी में राजू उर्फ इमरान उसे एक कार्यक्रम में मिला था। इमरान ने धर्म और पहचान छुपाकर युवती से दोस्ती की थी। कुछ ही समय में दोनों के बीच गहरी दोस्ती हो गई और बात शादी तक पहुंच गई। 15 जून 2021 को इमरान उसे गाड़ी से घुमाने के लिए ग्वालियर से डबरा ले गया। जहां उसने कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर युवती को पिला दिया और उसके साथ दुष्कर्म किया। जिसके बाद वह गर्भवती हो गई। इसके बाद इमरान ने अपनी मां सुग्गा बेगम से मुलाकात कराई।

युवती का दावा है कि इमरान की मां ने कहा कि यदि लोगों को शादी से पहले बच्चा होने की बात पता लगेगी तो बदनामी होगी। इसलिए उन्होंने जबरन उसका गर्भपात करा दिया। इसके बाद 18 सितंबर 2021 को हिंदू रीति रिवाज से इमरान ने राजू बनकर युवती से शादी की। ग्वालियर के सिटी सेंटर के एक होटल में शादी की पार्टी भी दी गई। शादी के बाद उसे पता चला कि राजू का असली नाम इमरान है और वह मुसलमान है।

यह भी पढ़ें: खरगोन में फिर दंगे भड़काने की कोशिश, BJP सांसद ने किया मुस्लिमों के खिलाफ हिंसा का आह्वान

युवती के मुताबिक इस बात की जानकारी लगते ही मायके पक्ष वालों ने उससे संबंध तोड़ लिया। युवती का यहां तक दावा है की इमरान ने अपने दो भाईयों और एक मौलाना से भी उसका दुष्कर्म कराया। मौलाना ने हिंदू रीति रिवाज से शादी को मान्य न बताते हुए निकाह कराया और फिर रेप किया। वहीं उसकी सास ने दो अज्ञात लड़कों को बुलाकर उसका रेप कराया। इन सब से परेशान होकर वह पुलिस तक पहुंची। पीड़िता के सामने आने के बाद पुलिस ने इमरान समेत पांच अन्य लोगों के खिलाफ दुष्कर्म के मामले में FIR दर्ज किया साथ ही उसकी मां के खिलाफ भी गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीबद्ध किया है। पुलिस इनमें से दो लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।