पचमढ़ी में 0.5 डिग्री तक गिरा पारा पौधों पर जम गई ओस की बूंदें, 26 जिलों में शीतलहर के लिए यलो अलर्ट जारी

उत्तर भारत से आ रही बर्फीली हवाओं से बदली प्रदेश की फिजा, उमरिया और नौगांव में 1.2 डिग्री, ग्वालियर 1.8, रायसेन 2.2 रहा न्यूनतम तापमान, हाड कंपकपा देने वाली सर्दी से जनजीवन प्रभावित

Updated: Dec 20, 2021, 10:34 AM IST

पचमढ़ी में 0.5 डिग्री तक गिरा पारा पौधों पर जम गई ओस की बूंदें, 26 जिलों में शीतलहर के लिए यलो अलर्ट जारी
Photo Courtesy: patrika

भोपाल। मध्यप्रदेश इनदिनों भीषण सर्दी के दौर से गुजर रहा है। प्रदेश के कई जिलों में रिकॉर्डतोड़ ठंड पड़ रही है। बीती रात पचमढ़ी में सबसे सर्द रात रही, यहां का न्यूनतम तापमान 0.5 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं उमरिया और नौगांव में 1.2 डिग्री, ग्वालियर 1.8 डिग्री तक पारा गिरा। खजुराहो में 2.0 डिग्री, रायसेन 2.2 डिग्री, मंडला 2.8 डिग्री, भोपाल 3.8 डिग्री, रीवा 3.0 डिग्री , दतिया 3.6, खरगोन में 4.8 डिग्री तक पारा गिर गया। वहीं दमोह, शहडोल, विदिशा, सीधी, कटनी, छतरपुर में भी लगातार पारा गिरने से लोगों को तेज ठंड सहनी पड़ीं। दिन में धूप होने के बाद भी शीतलहर की वजह से ठंड रही।

प्रदेश के ज्यादातर जिलों में लागातार गिरते पारे की वजह से फसलों पर ओस की बूंदें जमी नजर आई। पचमढ़ी, नौगांव, उमरिया, ग्वालियर, रायसेन में फसलों पर सफेदी की चादर देखने को मिली। अब किसानों को चिंता है कि कहीं इस सर्दी से फसलों में पाला न लग जाए। किसानों को खेतों में सिंचाई करने की सलाह दी गई है। वहीं खेतों की मेडों पर शाम के समय धुआं करने की सलाह दी गई है।

मौसम विभाग ने भोपाल समेत 26 जिलों में शीत लहर की चेतावनी जारी की है। अगले 24 घंटों में प्रदेश के  सीहोर, विदिशा, उज्जैन, रायसेन, राजगढ़, देवास, आगर-मालवा, मंदसौर, नीमच, सागर, निवाड़ी, ग्वालियर शाजापुर, रतलाम, छतरपुर, दमोह, टीकमगढ़, पन्ना, , शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, दतिया, भिंड, मुरैना, एवं श्योपुर जिलों में शीत लहर के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। वहीं उमरिया, भिंड मुरैना, छतरपुर, श्योपुर कलां, ग्वालिय में पाला पड़ने की आशंका जताई गई है। लोगों को सर्दी से बचने की सलाह दी जा रही है।