बीजेपी महासचिव ने पार्टी के सीनियर नेताओं को बताया नालायक, बोले- घर बैठने के लिए नहीं मिला पद

मध्य प्रदेश बीजेपी के प्रभारी मुरलीधर राव ने पार्टी की बैठक में संगठन पदाधिकारियों को दी क्षेत्र में घूमने की हिदायत, बोले- सांसद, विधायक बनने के बाद भी जो असंतुष्ट हैं, वे नालायक हैं

Updated: Sep 09, 2021, 04:51 PM IST

बीजेपी महासचिव ने पार्टी के सीनियर नेताओं को बताया नालायक, बोले- घर बैठने के लिए नहीं मिला पद
Photo Courtesy : The Hans India

भोपाल। मध्य प्रदेश बीजेपी के प्रभारी व राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव का अजीबोगरीब बयान सामने आया है। राव ने मंत्रिमंडल और संगठन में एडजस्ट न किए जाने से नाराज सीनियर नेताओं को नालायक करार दिया है। उन्होंने संगठन पदाधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा है कि उन्हें घर बैठने के लिए पद नहीं मिला है।

दरअसल, बीजेपी के प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव गुरुवार को पुराने भोपाल स्थित संत रविदास मंदिर में अनूसूचित जाति मोर्चा के पदाधिकारियों के साथ संवाद कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने सीनियर पदाधिकारियों, सांसदों और विधायकों पर निशाना साधा। राव ने कहा कि 3 बार, 4 बार 5 बार सांसद, विधायक बनने के बाद भी जो यह कहे कि हमें मौका नहीं मिला उससे बड़ा नालायक आदमी कोई नहीं।

यह भी पढ़ें: BJP विधायक के भांजे की रंगबाजी, बीच सड़क पर गोलियों की तड़तड़ाहट के साथ मनाया बर्थड़े

राव ने नाराज नेताओं पर तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि जिन्होंने लगातार 4-5 बार प्रतिनिधित्व किया, उनके पास रोने के लिए कुछ नहीं होना चाहिए। ऐसे लोगो यदि कहते हैं कि उन्हें मौका नहीं मिला तो वे नालायक हैं, और उन्हें मौका मिलना भी नहीं चाहिए। माना जा रहा है कि राव का इशारा अजय विश्नोई जैसे वरिष्ठ नेताओं की ओर था, जो मंत्रिमंडल या संगठन में जगह नहीं मिलने से नाराज हैं और लगातार सरकार की आलोचनाएं करते हैं।

बीजेपी नेता ने बैठक के दौरान संगठन पदाधिकारियों को फटकारते हुए कहा कि उन्हें घर बैठे रहने के लिए पद नहीं दिया गया है। उन्होंने पदाधिकारियों को अपने प्रभार वाले क्षेत्रों का दौरा करने की हिदायत भी दी। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि महामंत्री स्तर के पदाधिकारियों को कम से कम 15 दिन और प्रदेश पदाधिकारियों को 10 दिन क्षेत्र में रहना अनिवार्य रहेगा।