पत्थरबाजों के खिलाफ कानून बनाने की तैयारी कर रही है शिवराज सरकार

कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा है कि एक कानून धार्मिक स्थलों में घुसने वालों के खिलाफ भी बनाना चाहिए

Publish: Jan 04, 2021, 06:47 AM IST

पत्थरबाजों के खिलाफ कानून बनाने की तैयारी कर रही है शिवराज सरकार
Photo Courtesy: The Times Of India

भोपाल। प्रदेश में कथित लव जिहाद के खिलाफ विवादास्पद कानून लागू कर चुकी शिवराज सरकार अब एक नए कानून को बनाने की तैयारी कर रही है। शिवराज सरकार ने पत्थरबाजों के खिलाफ कानून बनाने की योजना बनाई है। इसका ऐलान खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया है। 

शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि पत्थरबाजी करने वाले लोग समाज के दुश्मन हैं। पत्थरबाजी से सामाजिक वैमन्यस्ता फैलती है। यह कोई साधारण अपराध नहीं है। इससे भय का वातावरण पैदा होता है। हमारी सरकार पत्थरबाजों के खिलाफ कानून बनाने की तैयारी कर रही है। अब तक तो पत्थरबाजी करने वालों के खिलाफ मामूली कार्रवाई होती थी लेकिन अब इनके विरूद्ध कानून बना कर कड़ी सजा का प्रावधान किया जाएगा। 

शिवराज सिंह चौहान के अलावा उनकी सरकार में नंबर दो के नेता गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी कानून बनाने के संकेत दिए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि एक महीने के भीतर इस कानून का प्रारूप तैयार कर लिया जाएगा। और जल्द ही इसे लागू कर दिया जाएगा। मिश्रा और शिवराज सिंह चौहान से पहले प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने अपने विवादित बयान में कहा था कि शिवराज सरकार जल्द ही पत्थरबाजों के खिलाफ कानून बनाने पर विचार करेगी। जिस घर, मोहल्ले या धार्मिक स्थल से पत्थर फेंके जाएंगे, सरकार उन धार्मिक स्थलों को नेस्तनाबूत कर देगी। 

भड़काऊ नारेबाज़ी करने वालों के खिलाफ भी कानून बनाए सरकार: नरेंद्र सलूजा 

कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की घोषणा के बाद कहा है कि पत्थर फेकने वालों पर ज़रूर कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए लेकिन बग़ैर अनुमति जुलूस निकालकर आपत्तिजनक व भड़काऊ नारे लगाने वालों , किसी के धार्मिक स्थल में ज़बर्दस्ती घुसने वालों , किसी भी धर्म के ख़िलाफ़ भड़काऊ नारे लगाने वालों के ख़िलाफ़ भी क़ानून बनाकर समान रूप से कड़ी कार्रवाई होना चाहिए।