जबलपुर सब्जी मंडी में उमड़ी हजारों लोगों की भीड़, कोरोना संक्रमण में सुरक्षित ख़रीददारी की चिंता

जबलपुर की सब्जी मंडी का वीडियो वायरल, खरीदारी करते नजर आए हजारों लोग, दो दिन बंद के बाद खुली थी सब्जी मंडी, पुलिस प्रशासन पर लापरवाही का लगा आरोप

Updated: May 25, 2021, 08:19 PM IST

जबलपुर सब्जी मंडी में उमड़ी हजारों लोगों की भीड़, कोरोना संक्रमण में सुरक्षित ख़रीददारी की चिंता
Photo courtesy: twitter

जबलपुर। शहर की सब्जी मंडी में हजारों लोगों की भीड़ का एक वीडियो वायरल हो रहा है। थोक सब्जी मंडी में फुटकर विक्रेताओं के बीच आम जनता भी खरीदारी करने पहुंची थी। इस वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि लोग कोरोना कर्फ़्यू और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को ताक पर रखकर बाजार में खरीददारी कर रहे हैं।  यहां कोरोना गाइडलाइन को नजरअंदाज किया गया है। दावा किया जा रहा है कि यह सोमवार का वीडियो है। जहां जबलपुर की मुख्य सब्जी मंडी में सुबह-सुबह हजारों सब्जी विक्रेता और ग्राहक खरीद फरोख्त करने पहुंचे थे।

जबलपुर में लगातार दो दिन सब्जी मंडी बंद थी, शनिवार और रविवार को टोटल लॉकडाउन की वजह से बाजार बंद थे। सोमवार को मंडी में भीड़ की आशंका के बाद भी मंडी समिति की ओर से भीड़ प्रबंधन के लिए कोई इंतजाम नहीं किया गया। बताया जा रहा है कि शहर में थोक मंडी का समय रात दो से सुबह 6 बजे तक रहता है। पर ज्यादा भीड़ सुबह 6 बजे उमड़ती है। समय खत्म होने के बाद भी लोग एक-दो घंटे ज्यादा सामान बेचते औऱ खरीदते दिखाई देते हैं।

भले ही जबलपुर में कोरोना की रफ्तार लगभग धीमी पड़ गई है, लेकिन इस भीड़ की वजह से दोबारा कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ते देर नहीं लगेगी। यहां जान बूझकर लोग कोरोना को आमंत्रित करते नजर आए और शासन प्रशासन अनजान बना रहा। जबकि इस दौरान सख्ती करके भीड़ को आसानी से नियंत्रित किया जा सकता था।

सब्जी मंडी मंडी के इस वायरल वीडियो से कोरोना विस्फोट होने का खतरा फिर बढ़ गया है। जहां सब्जी मंडी में थोक व्यापारियों के साथ फुटकर व्यापारी भी खरीदारी करने जा पहुंचे। लेकिन तब भी मंडी प्रशासन ने किसी तरह का कोई एक्शन नहीं लिया।

मामले के तूल पकड़ने के बाद अब प्रशासन ने मंडी में अलग-अलग जगहों पर दुकानें लगाने का फैसला लिया है। मंडी में पास लगे ऑटो को जाने दिया जाएगा। वहीं ठेला वालों को ही थोक में खरीदी करने की परमिशन होगी।