फ्लोर टेस्ट से पहले RJD फाइनेंसर्स के ठिकानों पर छापा, तेजस्वी बोले- हम डरते नहीं, करारा जवाब मिलेगा

CBI की टीमों ने सिर्फ बिहार में ही आरजेडी के 6 नेताओं के दर्जनों ठिकानों घर छापा मारा। इनमें 2 राज्यसभा सांसदों के अलावा पूर्व विधायक और राजद के फाइनेंसर अबु दोजाना भी शामिल हैं।

Updated: Aug 24, 2022, 03:15 PM IST

फ्लोर टेस्ट से पहले RJD फाइनेंसर्स के ठिकानों पर छापा, तेजस्वी बोले- हम डरते नहीं, करारा जवाब मिलेगा

पटना। बिहार विधानसभा में नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव सरकार फ्लोर टेस्ट में उतरने वाली है। इससे पहले केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने RJD के फाइनेंसर्स के दर्जनों ठिकानों पर छापा मारा है। इतना ही नहीं जांच का दायरा गुरुग्राम तक पहुंचा है। सीबीआई की टीम गुरुग्राम के एक मॉल में छापेमारी का रही है। दावा किया जा रहा है कि ये मॉल लालू के बेटे तेजस्वी यादव का है। वहीं तेजस्वी यादव ने इन छापेमारी को लेकर कहा है कि आरजेडी छापों से डरने वाली पार्टी नहीं है। हम विधानसभा में इसका जवाब देंगे।

सीबीआई आरजेडी के जिन नेताओं के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है उनमें राज्यसभा सांसद अशफाक करीम, फैयाद अहमद, MLC और कोषाध्यक्ष सुनील सिंह, एमएलसी सुबोध राय, पार्टी के फाइनेंसर अबु दोजाना और लालू यादव के करीबी नेता सुभाष यादव शामिल हैं। टीम गुरुग्राम के एक मॉल में भी पहुंची है, जो तेजस्वी यादव का बताया जा रहा है। इसे अबु दोजाना की कंपनी ही बना रही है।

यह भी पढ़ें: 50 खोके एकदम ओके के नारों से बिफरा शिंदे गुट, महाराष्ट्र विधानसभा के बाहर विधायकों में हुई भिडंत

यह मामला जमीन के बदले रेलवे में रोजगार घोटाले से जुड़ा है। सीबीआई सूत्रों का दावा है कि गुरुग्राम स्थित क्यूब्स 71 मॉल के निर्माण में जॉब घोटाले से मिली रकम का इस्तेमाल किया गया है। कुल मिलाकर 25 ठिकानों पर केंद्रीय एजेंसी ने छापा मारा है। इसे लेकर सियासत भी तेज हो गई है। राजद ने बिहार में फ्लोर टेस्ट से ठीक पहले पड़े इन छापों को बदले की कार्रवाई करार देते हुए कहा है कि भाजपा की खीझ छापों के रूप में बाहर आ रही है।

बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी का कहना है कि हम इस तरह के छापों से डरते नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हमारे खिलाफ ऐसा पहली बार नहीं हो रहा है। इसके अलावा तेजस्वी यादव ने सदन में ही इन छापों को लेकर जवाब देने की बात कही है। उन्होंने मीडिया से कहा कि, 'आप लोग भी सदन में रहना। हम वहीं पर इन सभी बातों का जवाब देंगे। सौ सुनार की एक लोहार की।' 

यह भी पढ़ें: समय पर फैसले नहीं ले रही सरकार, नितिन गडकरी का केंद्र पर तीखा हमला

लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य ने ने CBI की कार्रवाई पर भाजपा का नाम लिए बगैर कहा- ये बलात्कारी पार्टी है। फ्लोर टेस्ट के पहले ही नीचता पर आ गई है। अपने पोसुआ (पालूत जानवर) को डराने के लिए भेजा है। इसके अलावा आरजेडी के राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा कि इसे ईडी, आईटी या सीबीआई का छापा कहना गलत है। यह भाजपा की ही रे़ड है। ये सभी एजेंसियां भाजपा के तहत ही काम करती हैं। इनके दफ्तर भाजपा की स्क्रिप्ट पर ही काम करते हैं।