अब भी घर में नज़रबंद हैं दिल्ली के सीएम, दिल्ली पुलिस के खंडन के बावजूद AAP का आरोप

आम आदमी पार्टी का कहना है कि केजरीवाल को बीती रात किसानों से मिलकर लौटने के बाद से ही नज़रबंद करके रखा गया है, दिल्ली पुलिस के मुताबिक़ सिर्फ़ सुरक्षा बढ़ाई गई है

Updated: Dec 08, 2020, 08:20 PM IST

अब भी घर में नज़रबंद हैं दिल्ली के सीएम, दिल्ली पुलिस के खंडन के बावजूद AAP का आरोप
Photo Courtesy: Twitter/AAP

नई दिल्ली। किसानों के भारत बंद के दिन दिल्ली में एक बड़ा राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया। आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उनके घर में नज़रबंद कर दिया गया है। आम आदमी पार्टी ने इस मुद्दे पर अच्छा-खासा हंगामा खड़ा कर दिया है। पार्टी का आरोप है कि मुख्यमंत्री केजरीवाल को कल किसानों के धरने में शामिल होकर लौटने के बाद से ही उनके घर से बाहर निकलने नहीं दिया जा रहा है। दिल्ली पुलिस ने इन आरोपों का खंडन किया है, जबकि बीजेपी ने इस पूरे विवाद को केजरीवाल की एक और नौटंकी करार दिया है।

सारा विवाद आज सुबह तब शुरू हुआ जब आम आदमी पार्टी ने ट्वीट करके ये आरोप लगाया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री को पुलिस ने नज़रबंद कर दिया है। उनके घर से न तो किसी को बाहर निकलने दिया जा रहा है और न ही किसी को भीतर जाने की छूट है।

 

 

आम आदमी पार्टी ने कुछ देर बाद ट्विटर पर एक वीडियो शेयर करके ये आरोप भी लगाया कि आप विधायक अखिलेश पति त्रिपाठी को मुख्यमंत्री से मिलने से न सिर्फ रोका गया, बल्कि दिल्ली पुलिस ने उनके साथ धक्कामुक्की भी की गई। 

 

 

बवाल बढ़ने पर दिल्ली पुलिस ने सफाई दी कि सीएम केजरीवाल को नज़रबंद करने का कोई सवाल ही नहीं है, वे कहीं भी आ जा सकते हैं। उनके घर के बार सुरक्षा ज़रूर बढ़ाई गई है ताकि आम आदमी पार्टी और अन्य लोगों के बीच टकराव न हो। 

 

लेकिन आम आदमी पार्टी लगातार आरोप लगा रही है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के इशारे पर दिल्ली पुलिस ने केजरीवाल को नज़रबंद कर लिया है। पार्टी का कहना है कि ऐसा इसलिए किया गया है, क्योंकि केजरीवाल ने दिल्ली के स्टेडियम को किसानों के लिए जेल में तब्दील करने की इजाजत नहीं दी थी। थोड़ी देर पहले आप ने एक और वीडियो ट्वीट करके दावा किया है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री के निवास को अब तक दिल्ली पुलिस ने घेर रखा है और किसी को भीतर नहीं जाने दिया जा रहा है, जबकि वही पुलिस बीजेपी को सीएम के दरवाजे तक जाकर प्रदर्शन करने की छूट दे रही है। 

आम आदमी पार्टी ने ये दावा भी किया है कि अब से थोड़ी देर पहले पार्टी के सांसद भगवंत मान मुख्यमंत्री से मिलने पहुंचे तो दिल्ली पुलिस ने उन्हें भीतर नहीं जाने दिया। 

बहरहाल, दिल्ली पुलिस ने भले ही सीएम केजरीवाल को नजरबंद किए जाने के आरोपों का खंडन किया है, लेकिन आम आदमी पार्टी की तरफ से लगातार एक के बाद एक ट्वीट करके ये दावा किया जा रहा है कि उनके मुख्यमंत्री को वाकई उन्हीं के घर में बंद कर दिया गया है।