6 मार्च को वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेवे ब्लॉक करेंगे किसान, पांच घंटे आवाजाही ठप करने का एलान

6 मार्च को किसान आंदोलन के 100 दिन पूरे हो रहे हैं, इसलिए किसान मोर्चा ने दिल्ली बॉर्डर से सटे वेस्टर्न एक्सप्रेसवे को जामकर शक्ति प्रदर्शन करने की घोषणा की है

Updated: Mar 05, 2021, 06:10 PM IST

6 मार्च को वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेवे ब्लॉक करेंगे किसान, पांच घंटे आवाजाही ठप करने का एलान
Photo Courtesy: Farmers Protest

नई दिल्ली। 6 मार्च को संयुक्त किसान मोर्चा ने वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे को जाम करने का फैसला किया है। कुंडली मानेसर पलवल हाईवे को किसान मोर्चा ने शनिवार को पांच घंटे के लिए ब्लॉक करने का दावा किया है। यानी कल दोपहर 11 बजे से शाम 4 बजे तक हाईवे पर आवाजाही पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगी। लिहाज़ा हाईवे पर टोल टैक्स का कलेक्शन नहीं हो सकेगा।  

दरअसल 6 मार्च को किसान आंदोलन को 100 दिन पूरे हो रहे हैं। इस अवसर पर संयुक्त किसान मोर्चा ने कृषि कानूनों के विरोध में शक्ति प्रदर्शन करने का फैसला किया है। किसान नेता बलवीर सिंह राजेवाल ने कहा है कि देश के बाकी हिस्सों में भी कृषि कानूनों के विरोध में घर और कार्यालयों की छत पर काले झंडे लहराए जाएंगे। संयुक्त किसान मोर्चा के सभी सदस्य काली पट्टी बांधे नज़र आएँगे।  

यह भी पढ़ें : सरकार की चुप्पी पर बोले राकेश टिकैत, किसानों के खिलाफ कदम उठाने की हो रही है तैयारी

कल होने वाले इस विरोध के साथ साथ किसान नेता राजेवाल ने यह भी कहा कि पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों पर भी संयुक्त मोर्चा की नज़र है। किसान संगठन के सदस्य तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, पुदुच्चेरी, असम और केरल का रुख भी करेंगे। फिलहाल किसान मोर्चा ने 15 मार्च को एंटी प्राइवेटाइजेशन डे के तौर पर मनाने का निर्णय किया है। इसके साथ ही संयुक्त किसान मोर्चा जल्द ही एमएसपी दिलाओ अभियान भी जल्द ही शुरू कर सकती है। 

यह भी पढ़ें : किसान नेताओं की अपील, पुलिस फ़र्ज़ी मामले में गिरफ्तार करने आए तो विरोध करे पूरा गांव

8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर को किसान मोर्चा किसान महिला दिवस के तौर पर मनाएगी। इस दिन किसान मोर्चा ने विभिन्न महिला संगठनों को किसान आंदोलन का समर्थन करने के लिए न्योता भी भेजा है।