गुजरात के पीपावाव पोर्ट से 90 किलोग्राम हेरोइन बरामद, ईरान से आए कंटेनर में रखा था ड्रग्स

जांच में खुलासा हुआ कि ड्रग्स सिंडिकेट ने तस्करी के लिए अनूठे तौर-तरीके का इस्तेमाल किया, इस तकनीक के मुताबिक पहले धागों को हेरोइन के घोल में भिगोया गया और बाद में सुखाया गया

Updated: Apr 30, 2022, 11:22 PM IST

गुजरात के पीपावाव पोर्ट से 90 किलोग्राम हेरोइन बरामद, ईरान से आए कंटेनर में रखा था ड्रग्स

गुजरात के एक बंदरगाह में 450 करोड़ रुपये की हेरोइन जब्त की गई है। डीआरआई और एटीएस गुजरात ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए पीपावाव बंदरगाह पर एक कंटेनर से होरेइन की खेप जब्त की है। जानकारी के मुताबिक कंटेनर को धागों में लपेटकर ड्रग्स को गुजरात लाया गया था।

ड्रग्स का ये जखीरा अमरेली जिले के पीपावाव पोर्ट पर एक कंटेनर से बरामद किया गया। राज्य के डीजीपी के मुताबिक, यह कंटेनर ईरान से आया था।
कंटेनर पांच महीने पहले लाया गया था। बताया जा रहा है कि जब्त किए गए कंटेनर का बजन करीब 9760 किलोग्राम है। 28 अप्रैल को जांच में 100 जंबो बैग में से चार संदिग्ध बैग मिले थे, जिनका वजन 395 किलो था। क्षेत्रीय फोरेंसिक विज्ञान लैब द्वारा की गई जांच में खुलासा हुआ है कि ये ड्रग्स अफीम और हेरोइन है।

यह भी पढ़ें: मोदी से मुस्लिमों पर हो रहे अत्याचार पर सवाल पूछने से डर गए बोरिस जॉनसन, ब्रिटिश सांसदों ने किए तीखे सवाल

रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां 90 किलो से ज्यादा हेरोइन थी, इसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 600 करोड़ से ज्यादा है। जांच में खुलासा हुआ है कि ड्रग सिंडिकेट ने तस्करी के लिए अनूठे तौर तरीके का इस्तेमाल किया। इस तकनीक के मुताबिक पहले धागों को हेरोइन के घोल में भिगोया गया और बाद में सुखाया गया। फिर इसको गांठों का आकार देकर बैग में पैक किया जाता था। इस बैगों को सामान्य धागों की गांठों वाले दूसरे बैगों के साथ भेज दिया गया, जिससे अधिकारियों का ध्यान इस पर न जाए।

बता दें कि गुजरात में इन दिनों बड़े स्तर पर ड्रग्स सिंडिकेट सक्रिय है। गुजरात में ही समुद्र के रास्ते जो ड्रग्स आते हैं उन्हें देशभर में सप्लाई किया जाता है। 
जनवरी से दिसंबर 2021 के बीच 3300 किलो से अधिक हेरोइन, 320 किलो कोकीन और 230 किलो हशीश जब्त की गई थी। इसके अलावा 170 किलो स्यूडोफेड्रिन और 67 किलो मेथामफेटामाइन भी जब्त किया गया था। सितंबर 2021 में मुंद्रा पोर्ट पर टैल्क की एक खेप से 3000 किलो हेरोइन और कांडला पोर्ट पर अप्रैल 2022 में जिप्सम की एक खेप से 205 किलो हेरोइन की रिकॉर्ड बरामदगी हो चुकी है।