भज्जी का कांग्रेस में शामिल होना तय, लुधियाना से लड़ सकते हैं चुनाव

हरभजन सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू की तस्वीर सामने आने के बाद से ही भज्जी के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें तेज़ हो गई थीं, अब दावा किया जा रहा है कि न सिर्फ भज्जी कांग्रेस में शामिल होंगे बल्कि आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव भी लड़ेंगे

Publish: Dec 16, 2021, 12:23 PM IST

भज्जी का कांग्रेस में शामिल होना तय, लुधियाना से लड़ सकते हैं चुनाव

चंडीगढ़। पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह का कांग्रेस पार्टी में शामिल होना लगभग तय हो गया है। हरभजन सिंह जल्द ही औपचारिक तौर पर कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर सकते हैं। इतना ही नहीं वे आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी के टिकट पर चुनाव भी लड़ने वाले हैं। 

हरभजन और नवजोत सिंह सिद्धू की तस्वीर सामने आने के बाद से ही मीडिया में यह चर्चा तेज है कि कांग्रेस पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों में टर्बनेटर को चुनावी मैदान में उतरने की तैयारी कर रही है। कांग्रेस पार्टी भज्जी को लुधियाना से विधानसभा चुनाव लड़ा सकती है। 

इससे पहले बुधवार को हरभजन और नवजोत सिंह सिद्धू की एक तस्वीर ने भज्जी के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलों को तेज कर दिया था। सिद्धू ने भज्जी के साथ तस्वीर साझा करते हुए कहा था कि चमकते हुए सितारे हरभजन के साथ संभावनाओं से भरी हुई तस्वीर। सिद्धू के इस कैप्शन से इस बात का अंदाज़ा लग गया था कि हरभजन सिंह कांग्रेस पार्टी का दामन थाम सकते हैं। इसके ठीक अगले ही दिन उनके चुनाव लड़ने की भी खबर आ गई है। 

हरभजन सिंह को अपने कुनबे में शामिल करने के लिए बीजेपी भी काफी कोशिश कर रही थी। लेकिन खुद हरभजन ने बीजेपी में शामिल होने की अटकलों को अफवाह करार दिया था। इसके बाद बुधवार को सिद्धू और हरभजन के बीच मुलाकात हुई। जो कि सिद्धू और हरभजन के कॉमन फ्रेंड के ज़रिए हुई थी। 

यह भी पढ़ें : पंजाब में बीजेपी की उम्मीदों को झटका देंगे भज्जी, कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें तेज़

हरभजन के अलावा पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह के भी राजनीति में कदम रखने की चर्चा है। हाल ही में युवराज को लेकर भी यह अटकलें तेज़ थी कि बीजेपी हरभजन के साथ साथ युवराज को भी अपनी पार्टी में शामिल करने के लिए ज़ोर लगा रही है। लेकिन युवराज सिंह इस वक्त पूरे परिदृश्य से गायब हैं। तमाम अटकलों को लेकर युवराज सिंह की ओर से अभी तक किसी तरह का खंडन या पुष्टि नहीं की गई है।