Hathras Rape case: यूपी सीएम पर राहुल गांधी का आरोप कहा, दलित, मुस्लिम और आदिवासियों को इंसान नहीं समझते

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट कर सीएम योगी को निशाने पर लिया है, उन्होंने कहा, यूपी पुलिस ने रेप से इनकार कर दिया, क्योंकि उनके लिए पीड़िता का कोई वजूद ही नहीं है

Updated: Oct-11, 2020, 04:46 PM IST

Hathras Rape case: यूपी सीएम पर राहुल गांधी का आरोप कहा, दलित, मुस्लिम और आदिवासियों को इंसान नहीं समझते
Photo Courtsey : IndiaToday

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने हाथरस गैंगरेप को लेकर उत्तरप्रदेश पुलिस और सीएम योगी आदित्यनाथ को निशाने पर लिया है। राहुल ने एक रिपोर्ट साझा करते हुए कहा है कि सीएम योगी और यूपी पुलिस के लिए गैंगरेप पीड़िता का कोई वजूद ही नहीं है, वह उसे इंसान भी नहीं मानते, इसलिए तो पुलिस रेप की घटना से भी इंकार कर रही है। राहुल ने जिस रिपोर्ट को साझा किया है उसमें बताया गया है कि किस तरह से पीड़ित दर्द से कराहते हुए बार-बार बता रही थी कि उसके साथ सामुहिक दुष्कर्म किया गया है।

राहुल ने रविवार सुबह ट्वीट कर कहा, 'शर्मनाक सच्चाई यह है कि कई भारतीय दलित, मुस्लिम और आदिवासियों को इंसान ही नहीं मानते। सीएम योगी और उनकी पुलिस का कहना है कि किसी के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ है क्योंकि उनके लिए और कई अन्य भारतीयों के लिए वह कोई नहीं थी।'

 

 

राहुल ने इस ट्वीट के साथ जिस रिपोर्ट को साझा किया है उसमें विस्तार से बताया गया है कि पीड़िता किस प्रकार ऊंची जाति के लोगों द्वारा अपने साथ हुए सामुहिक बालात्कार के बारे में बता रही थी। हैरान करने वाली बात यह है कि दो हफ्ते तक जीवन और मौत से जूझ रही पीड़िता ने जब दम तोड़ दिया था उसके बाद उत्तरप्रदेश पुलिस ने संदिग्ध रूप से आधी रात को उसके शव का दाह संस्कार कर दिया था। इसके बाद उत्तरप्रदेश सरकार ने इस बात को ही खारिज कर दिया कि पीड़िता के साथ कोई दुष्कर्म हुआ।

और पढ़ें: Hathras Case नक्सल भाभी कहे जाने से खफ़ा डॉ राजकुमारी कानूनी एक्शन की तैयारी में

पीड़िता के परिवार से भी मिले थे राहुल

गौरतलब है कि कांग्रेस सांसद राहुल गांधी इस मामले को लेकर शुरुआत से ही जांच और पीड़िता के लिए की मांग कर रहे थे। वह पीड़िता के परिजनों से मिलने भी गए थे जिस दौरान यूपी पुलिस ने उनके साथ धक्का-मुक्की की थी। इसके बाद योगी सरकार की चौतरफा आलोचना हुई। बाद में सरकार ने राहुल गांधी व कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को पीड़िता के परिजनों से मिलने दिया था।

सीबीआई ने केस को किया टेकओवर

हाथरस रेप मामले में उत्तरप्रदेश पुलिस और सरकार की संदिग्ध भूमिका को लेकर देशभर में आक्रोश के बाद राज्य सरकार ने मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी थी। इसके बाद केंद्र से मामले की जांच सीबीआई को सौंप दिया। अभी तक इस मामले में एसआईटी की टीम जांच कर रही थी लेकिन केंद्र सरकार की डीओपीटी विभाग के नोटिफिकेशन के बाद सीबीआई ने इसे टेकओवर कर लिया है। जल्द ही सीबीआई इस मामले की जांच पड़ताल शुरू करेगी।