मैं तो उस राज्य से आता हूं, जहां पानी की हमेशा बहुत कमी रही है, मन की बात में बोले पीएम मोदी

चार राज्यों के विधानसभा चुनावों में पार्टी की जीत के बाद मन की बात का पहला एपिसोड, पीएम मोदी ने जल संरक्षण पर दिया जोर, निर्यात को बताया ऐतिहासिक, जानें मुख्य बातें

Updated: Mar 27, 2022, 12:13 PM IST

मैं तो उस राज्य से आता हूं, जहां पानी की हमेशा बहुत कमी रही है, मन की बात में बोले पीएम मोदी

नई दिल्ली। पांच राज्यों में चुनाव संपन्न होने के बाद पीएम मोदी ने पहली बार मन की बात कार्यक्रम को किया। मासिक रेडियो प्रोग्राम मन की बात में पीएम नरेन्द्र मोदी ने लोगों को देश की क्षमताओं से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि आज भारत 400 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया है। इस दौरान उन्होंने जल संरक्षण को लेकर भी विशेष जोर दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं तो उस राज्य से आता हूं, जहां पानी की हमेशा बहुत कमी रही है। गुजरात में इन स्टेपवेल्स को वाव कहते हैं। गुजरात जैसे राज्य में वाव की बड़ी भूमिका रही है। इन कुओं या बावड़ियों के संरक्षण के लिए ‘जल मंदिर योजना’ ने बहुत बड़ी भूमिका निभाई। जैसे आजादी के अमृत महोत्सव में हमारे देश के हर जिले में कम से कम 75 अमृत सरोवर बनाए जा सकते हैं। कुछ पुराने सरोवरों को सुधारा जा सकता है, कुछ नए सरोवर बनाए जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: मैं ना भाजपा-संघ से डरा हूं, ना कभी डरूंगा, सजा के ऐलान के बाद बोले दिग्विजय सिंह

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे भरोसा है, आप इस दिशा में कुछ ना कुछ प्रयास जरूर करेंगे। चेक डैम बनाने हों, रेन वाटर हार्वेस्टिंग हो, इसमें व्यक्तिगत प्रयास भी अहम हैं और सामूहिक प्रयास भी जरूरी होता है। प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि, 'पीएम मोदी ने कहा कि एक समय में भारत से एक्सपोर्ट का आंकड़ा कभी 100 बिलियन, कभी डेढ़ सौ बिलियन तक हुआ करता था, आज भारत 400 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया है।

पीएम बोले कि इसका मतलब ये है कि दुनिया भर में भारत में बनी चीजों की मांग बढ़ रही है, दूसरा मतलब ये है कि भारत की सप्लाई चेन दिनों-दिन और मजबूत हो रही है और इसका एक बहुत बड़ा संदेश भी है। पीएम मोदी ने कहा पहले यह माना जाता था कि केवल बड़े लोग ही सरकार को उत्पाद बेच सकते हैं, लेकिन सरकारी ई-मार्केटप्लेस पोर्टल ने इसे बदल दिया है। यह एक नए भारत की भावना को दर्शाता है।

पीएम मोदी ने कहा कि यह मेक इन इंडिया की ताकत है। पीएम मोदी ने कहा कि अब सबसे बड़ी बात ये कि देश के नए-नए प्रोडक्ट्स नए-नए देशों को भेजे जा रहे हैं। पीएम ने कहा कि देश के कोने-कोने से नए-नए प्रोडक्ट अब विदेश जा रहे हैं। असम के हैलाकांडी के लेदर प्रोडक्ट हों या उस्मानाबाद के हैंडलूम प्रोडक्ट, बीजापुर की फल-सब्जियां हों या चंदौली का ब्लैक राइस, सबका एक्सपोर्ट बढ़ रहा है। पीएम मोदी ने एक बार फिर लोकल फोर वोकल की वकालत की।

पीएम मोदी ने आज कार्यक्रम में बाबा शिवानंद का जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा कि हाल ही में हुए पद्म सम्मान समारोह में आपने बाबा शिवानंद जी को जरुर देखा होगा। 126 साल के बुजुर्ग की फुर्ती देखकर मेरी तरह हर कोई हैरान हो गया होगा और मैंने देखा, पलक झपकते ही, वो नंदी मुद्रा में प्रणाम करने लगे। उन्होंने कहा कि 126 वर्ष की आयु और बाबा शिवानंद की फिटनेस, दोनों, आज देश में चर्चा का विषय है। उनमें योग के प्रति पैशन है। मैं उनके दीर्घायु की कामना करता हूं।