Maharashtra Political Crisis: दिग्विजय ने बताया अटल भाजपा और मोदी भाजपा में फर्क, बोले BJP को केवल गद्दारों, दलालों की आवश्यकता

दिग्विजय सिंह ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी के संसद में 1996 में विश्वास मत खोने के बाद दिए गए भाषण का वीडियों शेयर किया है

Updated: Jun 23, 2022, 04:12 PM IST

Maharashtra Political Crisis: दिग्विजय ने बताया अटल भाजपा और मोदी भाजपा में फर्क, बोले BJP को केवल गद्दारों, दलालों की आवश्यकता
Photo Courtesy: The Financial Times

भोपाल। महाराष्ट्र में राजनैतिक संकट गहराता जा रहा है। शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री पद और पार्टी दोनों खोने की कगार पर है। कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना इसे महाराष्ट्र में सरकार गिराने का भाजपा का षड़यत्र बता रहे है। इस राजनैतिक संकट पर आरोप प्रत्यारोपों के बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी कूद पड़े है। दिग्विजय ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी का संसद में दिया बयान याद दिलाते हुए अटल बिहारी वाजपेयी के दौर की भाजपा और मोदी शाह दौर की भाजपा में फर्क बताया है। 

यह भी पढ़ें: बैतूल में इंजीनियर दूल्हे की बुलडोजर पर निकली बारात, देखने उमड़ी भीड़

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधा है। दिग्विजय ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के संसद में दिए एक भाषण की क्लिप साझा करते हुए लिखा कि BJP को केवल गद्दारों, दलालों की आवश्यकता है। 

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी के संसद में 1996 में विश्वास मत खोने के बाद दिए गए भाषण का वीडियों शेयर किया है। इसमें अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि 'पार्टी तोड़कर सत्ता के लिए नया गठनबंधन कर के, अगर सत्ता हाथ में आती है तो मैं ऐसी सत्ता को चिमटे से भी छूना पंसद नहीं करुंगा।' इसके साथ दिग्विजय सिंह ने लिखा कि, 'यह फर्क है अटल जी की भाजपा व मोदी शाह की भाजपा में। शर्म करो। भाजपा को अब केवल गद्दारों की आवश्यकता है। दलालों की आवश्यकता है। कमाऊ पूतों की आवश्यकता है।'

दरअसल महाराष्ट्र में मंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में 48 विधायकों ने उद्धव ठाकरे की सरकार से बगावत की है जिसके कारण महाराष्ट्र में राजनैतिक संकट खड़ा हो गया है।