देश बेचने की तैयारी है, अडानी की वजह से MSP लागू नहीं हो रही: राज्यपाल सत्यपाल मलिक का बड़ा बयान

मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि किसानों के लिए MSP इसलिए लागू नहीं की जा रही है क्योंकि इससे पीएम मोदी के दोस्त अडानी को लाभ है।

Updated: Aug 22, 2022, 12:15 PM IST

देश बेचने की तैयारी है, अडानी की वजह से MSP लागू नहीं हो रही: राज्यपाल सत्यपाल मलिक का बड़ा बयान

नई दिल्ली। मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने एक बार फिर से केंद्र सरकार और पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने रविवार को कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार देश बेचने की तैयारी में है। किसानों को एमएसपी इसलिए नहीं मिल रहा क्योंकि प्रधानमंत्री का मित्र अडानी को उससे घाटा होगा। वह एमएसपी लागू होने नहीं दे रहे।

हरियाणा के नूंह के किरा गांव में एक गौशाला के कार्यक्रम में बोलते हुए सत्यपाल मलिक ने कहा, 'अगर एमएसपी लागू नहीं किया गया और एमएसपी पर कानूनी गारंटी नहीं दी गई, तो एक और लड़ाई होगी और इस बार यह एक भयंकर लड़ाई होगी। आप इस देश के किसान को नहीं हरा सकते। आप उसे डरा नहीं सकते। चूंकि आप ईडी या आयकर अधिकारी नहीं भेज सकते, तो आप किसान को कैसे डराएंगे?'

यह भी पढ़ें: जंतर मंतर पर किसानों की महापंचायत आज, हाई अलर्ट पर दिल्ली पुलिस, ट्रैफिक एडवाइजरी जारी

सत्यपाल मलिक ने आगे कहा कि, 'गुवाहाटी हवाई अड्डे पर मैं एक गुलदस्ता पकड़े एक महिला से मिला। जब मैंने उससे पूछा कि वह कहां से है, तो उसने जवाब दिया हम अडानी की तरफ से आए हैं। मैंने पूछा इसका क्या मतलब है। उन्होंने कहा कि यह हवाईअड्डा अडानी को सौंप दिया गया है। अडानी को हवाई अड्डे, बंदरगाह, प्रमुख योजनाएं दी गई हैं और एक तरह से देश को बेचने की तैयारी है। लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे।'

सत्यपाल मलिक ने आगे कहा, 'प्रधानमंत्री के एक दोस्त हैं जिनका नाम अडानी है, वह पिछले पांच साल में एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। पानीपत में अडानी ने एक बड़ा गोदाम बना लिया है और सस्ते दामों पर खरीदे गए गेहूं से उसका स्टॉक कर लिया है। जब महंगाई होगी, तो वह उस गेहूं को बेच देंगे। ऐसे पीएम के दोस्त मुनाफा कमाएंगे और किसानों को नुकसान होगा। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और इसके खिलाफ लड़ाई लड़ी जाएगी।'