आपसे बड़ा देशभक्त कोई नहीं, पूरी कांग्रेस आपके साथ खड़ी है, सत्याग्रह के दौरान युवाओं से बोलीं प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी ने युवाओं से कहा कि पूरा देश आपका का दर्द समझ रहा है, लेकिन आप यह मत भूलो कि यह देश आपका है, इस देश की संपत्ति आप की है, इसे सुरक्षित रखना आपका कर्तव्य है, इस दौरान दिग्विजय सिंह ने कहा कि PM मोदी ने जितने वादे किए हैं, सब में धोखा दिया है, ऐसे में कोई कैसे भरोसा करे

Updated: Jun 19, 2022, 07:28 PM IST

आपसे बड़ा देशभक्त कोई नहीं, पूरी कांग्रेस आपके साथ खड़ी है, सत्याग्रह के दौरान युवाओं से बोलीं प्रियंका गांधी

नई दिल्ली। विवादास्पद अग्निपथ योजना के खिलाफ दिल्ली में जंतर मंतर पर कांग्रेस सत्याग्रह शुरू किया है। रविवार को इस सत्याग्रह आंदोलन के पहले दिन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी समेत तमाम दिग्गजों ने अपनी बातें रखी। इस दौरान प्रियंका गांधी ने युवाओं से कहा कि आपसे बड़ा देशभक्त कोई नहीं है। राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने इस दौरान कहा कि पीएम मोदी ने अबतक जितने वादे किए हैं, सभी में धोखा दिया है। ऐसे में कोई उनकी बातों पर कैसे भरोसा कर सकता है।

सत्याग्रह आंदोलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा, 'सत्याग्रह के मंच से मैं इस देश के नौजवानों कुछ कहना चाहती हूं। आप इस देश का भविष्य हैं। आपसे बड़ा देशभक्त कोई नहीं है इस देश में। मैंने आप जैसे सैकड़ों बच्चों से बात की। जब मैं यूपी के एक छोटे से गांव में 4 बजे सुबह गिरफ्तार होने वाली थी, तब भी मैंने सड़क पर देखा कि 20-30 नौजवान आर्मी में भर्ती होने के लिए दौड़ लगा रहे थे। ट्रैक्टर पर बैठे हुए मैं ऐसे नौजवानों से मिली जिन्होंने मुझे कहा कि दीदी उम्मीद छूट गई है। सालों से हम भर्ती का इंतजार कर रहे थे। अब हम्म गन्ना बेचने जा रहे हैं।'

प्रियंका गांधी ने आगे कहा कि, 'मैं युवाओं से यह कहना चाहती हूं कि हम आपका दर्द समझते हैं। पूरा देश समझ रहा है। पूरा देश देख रहा है। लेकिन आप यह मत भूलो कि यह देश आपका है। इस देश की संपत्ति आप की है। इसे सुरक्षित रखना आपका कर्तव्य है। हम यहा सत्याग्रह पर बैठे हैं। क्योंकि सत्याग्रह, सत्य की लड़ाई अहिंसा द्वारा लड़ी गई। अहिंसा के जो मार्ग पर चलकर लड़ी गई। उस लड़ाई ने इस देश को आजाद किया। इस देश को आजाद करके आपको सौंपा, ताकि आपका भविष्य बन पाए।'

यह भी पढ़ें: अग्निवीरों को साल में मिलेंगी सिर्फ 30 छुट्टियां, चार साल पूरे किए बिना नहीं छोड़ पाएंगे जॉब, गाइडलाइंस जारी

कांग्रेस  महासचिव ने आगे कहा कि, 'मैं आपसे आग्रह करती हूं कि परिस्थितियों को समझिए। आपके आसपास क्या हो रहा है, सरकार कैसे चल रही है। देश में क्या हो रहा है। उसको गहराई से समझिए। जो किसान के आंदोलन थे। क्यों किए गए? किसान क्यों जागे, क्यों सड़क पर आए? क्योंकि वह समझे कि खून पसीना वो बहाएं, मेहनत वो करें, लेकिन उस मेहनत की कमाई किसी और को दी जा रही थी। ये सरकार गरीबों, देश के नवयुवकों के लिए, इस देश की महिलाओं के लिए, इस देश के एक-एक देशवासी के लिए नहीं चल रही है। ये सरकार सिर्फ बड़े-बड़े उद्योगपतियों के लिए चल रही है। ये जितनी भी योजनाए हैं, जो बार-बार आप पर थोपी जाती हैं, ये सोच समझकर किया जा रहा है।'

उन्होंने कहा कि, 'आज सेना में भर्ती होने का सपना आप देखते हैं, आप अपनी देश की सुक्षा का सपना देखते हैं, अपने भविष्य को मजबूत बनाने का सपना आप देखते हैं, आप ये सपना देखते हैं कि बड़े होकर अपने मां-बाप का देखभाल करेंगे। सरहद पर जाकर इस देश के लिए आप अपनी जान देंगे। आप से बड़ा कोई देशभक्त नहीं। मैं आपसे कहना चाहती हूं कि जो नकली राष्ट्रवादी हैं, उन्हें आप पहचानिए। आपके संघर्ष में पूरा देश आपके साथ है। पूरी कांग्रेस पार्टी आपके साथ है।'

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने कहा कि, 'मोदी मॉडल ऑफ गवर्नेंस है कैसे सत्ता में बैठकर पूरी व्यवस्था को ठेके पर दिया जाए। गुजरात में पुलिस की भर्ती भी ठेके पर होती है। मोदी जी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद मंत्रालय में ज्वाइंट सेक्रेटरी, एडिशनल सेक्रेटरी भी ठेके पर लिए गए। अब सेना में भर्ती ठेके पर की जा रही है। मोदी जी निर्णय पहले लेते हैं और सोचते बाद में है। मोदी जी के मिजाज में चर्चा करना नहीं है। मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने पूर्व सैन्य कर्मियों के लिए समूह 4 की नौकरी में 10 प्रतिशत, समूह 3 की नौकरी में 5 प्रतिशत आरक्षण कानूनन व्यवस्था की थी लेकिन आज पूरे मध्य प्रदेश में भूतपूर्व सैनिक आंदोलित हैं। मोदी जी, अपना अहम और अहंकार छोड़िए और इस अग्निपथ योजना को वापस लीजिए। अब कैसे आपकी बात पर भरोसा किया जाए मोदी जी, जीतने वादे आपने किए हैं, सब में आपने धोखा ही दिया है।'