Rahul Gandhi: इस बार रावण की जगह जले पीएम के पुतले, झूठ बोलने में मोदी सबसे आगे

Bihar Elections: राहुल गांधी ने कहा, पीएम ने बिहार समेत पूरे देश से बस झूठ बोला है, अब वो 2 करोड़ रोज़गार की बात करेंगे तो लोग भगा देंगे

Updated: Oct 28, 2020, 05:56 PM IST

Rahul Gandhi: इस बार रावण की जगह जले पीएम के पुतले, झूठ बोलने में मोदी सबसे आगे
Photo Courtesy: Hindustan Times

चंपारण। बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के दौरान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। पश्चिमी चंपारण में एक चुनावी सभा में गांधी ने कहा कि अब रावण के पुतले की जगह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुकेश अंबानी और गौतम अडाणी के पुतले जलाए जा रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस गठबंधन को बिहार के लिए एकमात्र आशा बताते हुए कहा कि वे झूठ बोलने में पीएम मोदी की बराबरी नहीं कर सकते। 

राहुल गांधी ने कहा कि जो काम नीतीश कुमार ने 2006 में बिहार के साथ किया, वही काम अब प्रधानमंत्री पंजाब, बिहार और पूरे हिंदुस्तान के साथ कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी केवल झूठे वादे करते हैं। गांधी ने कहा कि कुछ साल पहले पीएम यहां आए थे और लोगों से वादा किया था कि यहां चीनी मिल चालू करूंगा। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। 

राहुल गांधी ने एक बार फिर से नए कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बिहार में तो 2006 में ही मंडी व्यवस्था और न्यूनतम समर्थन मूल्य को खत्म कर दिया गया। मजबूरन बिहार के लोगों को महानगर जाना पड़ता है। नए कृषि कानून खेती को पूरी तरह से बर्बाद करने के लिए लाए गए हैं। 

राहुल गांधी ने अपने भाषण में कहा कि बिहार में बहुत शक्ति है और इसलिए महात्मा गांधी जब अंग्रेजों के खिलाफ मोर्चा खोलने जा रहे थे तो वे सबसे पहले बिहार के चंपारण ही आए। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी को मालूम था कि अगर हिंदुस्तान को खड़ा करना है तो लड़ाई बिहार से शुरू करनी होगी। 

पीएम मोदी के दो करोड़ रोजगार देने के वादे को झूठा बताते हुए गांधी ने कहा कि उनके झूठ को जनता समझ गई है। राहुल ने कहा कि वे इस बात की गारंटी दे सकते हैं कि अगर पीएम मोदी फिर से 2 करोड़ रोजगार की बात करें तो जनता उन्हें भगा देगी। 

राहुल गांधी ने कहा कि बिहार चुनाव में उनके गठबंधन ने रोजगार की बात की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने देश को मनरेगा दिया है, दिशा दी है, पढ़ने लिखने और भोजन का अधिकार दिया है। उनकी पार्टी को देश चलाना आता है। उन्होंने कहा कि वे वह दिन देखना चाहते हैं जब दूसरे प्रदेश के युवा रोजगार पाने के लिए पटना आएं। राहुल गांधी ने कहा कि उनकी सरकार सबकी सरकार होगी।