रूसी सांसद की ओडिशा में संदिग्ध मौत, उसी होटल में दोस्त ने भी तोड़ा था दम, दोनों थे पुतिन के आलोचक

रूस के सबसे अमीर सांसदों में से एक पावेल एंतोव की ओडिशा के होटल में संदिग्ध परिस्थिति में मौत। इससे पहले उनके साथी का दिल का दौरा पड़ने से इसी होटल में मौत हो गई थी।

Updated: Dec 27, 2022, 05:48 PM IST

रूसी सांसद की ओडिशा में संदिग्ध मौत, उसी होटल में दोस्त ने भी तोड़ा था दम, दोनों थे पुतिन के आलोचक

रायगढ़। ओडिशा के एक होटल में दो रूसी नागरिकों का एक के बाद एक संदिग्ध मौत का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मृतकों में एक रूसी सांसद पावेल एंतोव हैं जो राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन के खिलाफ खुलकर बोलने के लिए सुर्खियों में रहे हैं। यही नहीं वह रूस के सबसे अमीर सांसदों में से एक थे। उनकी संदिग्ध परिस्थितियों में होटल से नीचे गिरने से मौत हो गई ।

बताया जा रहा है कि पावेल छुट्टियों पर ओडिशा के रायगढ़ में आए थे। यहां वह अपना 66वां जन्मदिन मनाने पहुंचे थे। जिस तरह से उनकी संदिग्ध परिस्थिति में मौत हुई है उसके बाद कई सवाल खड़े हो रहे हैं। होटल के रिसेप्शनिस्ट का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि पावेल ने आत्महत्या की है या वह तीसरी मंजिल से नीचे गिर गए हैं।

यह भी पढ़ें: कोरोना योद्धा के साथ बर्बरता, जेल से बाहर आते ही संविदा स्वास्थ्यकर्मी लकवाग्रस्त, सिर में भी गंभीर चोट

हैरानी की बात ये है कि दो दिन पहले उनके एक साथी की उसी होटल के रूम में संदिग्ध मौत हो गई थी। तब कहा गया कि हार्ट अटैक से उनकी मौत हो गई। स्थानीय पुलिस ने शव को दफना भी दिया। इसके दो दिन बाद सांसद पावेल होटल के बाहर खून से लथपथ मिले। इसपर पुलिस ने कहा कि उन्हें छत से कूदकर आत्महत्या कर ली। उनका शव भी दफना दिया गया।

पुलिस का कहना है कि दोस्त की मौत के बाद पावेल बेहद चिंतित थे और इसी वजह से उन्होंने आत्महत्या कर ली। एसपी विवेकानंद ने बताया कि 22 दिसंबर की सुबह व्लादिमीर बुडानोव की मौत हुई थी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया कि उनकी मौत हार्ट अटैक के कारण हुई थी। अधिकारियों ने उनके शव को भी दफना दिया था। एसपी की माने तो अपने दोस्त के निधन के बाद पावेल एंतोव डिप्रेशन में थे। होटल में एंतोव और व्लादिमीर के साथ ठहरे दो लोगों को जांच पूरी होने तक रुकने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें: भारत यात्री नूरी खान को उज्जैन पुलिस ने किया हाउस अरेस्ट, सीएम शिवराज को देना चाहती थीं ज्ञापन

हालांकि, इन मौतों को लेकर कई सवाल भी खड़े हो रहे हैं। खास बात यह है कि रूसी दूतावास भी वही कह रही है जो स्थानीय पुलिस का कहना है। मीडिया से बातचीत में दूतावास के अधिकारी ने कहा कि ओडिशा पुलिस को इन मौतों के पीछे कोई आपराधिक लिंक नहीं मिला है। दूतावास ने कहा, 'ओडिशा में हुई घटना के बारे में हमें पता है, जहां हमारे दो नागरिकों की मौत हुई है. पावेल एंतोव व्लादिमीर ओब्लास्ट लेजिस्लेटिव असेंबली के सदस्य थे। हम उनके परिवार और स्थानीय अधिकारियों के संपर्क में हैं।'

बता दें कि मृतक रूसी सांसद पावेल एंतोव ने यूक्रेन में रूस के 'विशेष सैन्य अभियान' की आलोचना की थी। यूक्रेन पर रूसी हमले और राजधानी कीव पर एयरस्ट्राइक को एंतोव ने 'आतंकी कृत्य' बताया था।