Delhi Police: पाकिस्तान में बने 308 ट्विटर हैंडल, ट्रैक्टर परेड में गड़बड़ी फैलाने की साज़िश

Tractor Parade: दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर (इंटेलिजेंस) दीपेंद्र पाठक के मुताबिक खुफिया इनपुट से पता चला है कि 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली को डिस्टर्ब करने की साजिश रची जा रही है

Updated: Jan 24, 2021, 09:12 PM IST

Delhi Police: पाकिस्तान में बने 308 ट्विटर हैंडल, ट्रैक्टर परेड में गड़बड़ी फैलाने की साज़िश
Photo Courtesy : Kisan Ekta Morcha/Twitter

नई दिल्ली। पाकिस्तान में 308 ट्विटर हैंडल सिर्फ़ इसलिए बनाए गए हैं, ताकि किसानों की ट्रैक्टर रैली को डिस्टर्ब किया जा सके। दिल्ली पुलिस ने ये चौंकाने वाला दावा उसी प्रेस कॉन्फ़्रेंस में किया, जिसमें उसने किसानों को गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड निकालने की इजाज़त देने की बात कही। दिल्ली पुलिस के इस बयान से गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर होने वाली किसानों की ट्रैक्टर परेड की  सुरक्षा को लेकर आशंकाएँ बढ़ गई हैं।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर (इंटेलिजेंस) दीपेंद्र पाठक ने 26 जनवरी को घोषित किसानों की ट्रैक्टर परेड (Tractor Parade) में गड़बड़ी की आशंका ज़ाहिर करते हुए कहा है कि उन्हें पाकिस्तान में ग़लत इरादों से बनाए गए 308 ट्विटर हैंडल के बारे में पता चला है। दिल्ली पुलिस के मुताबिक़ (Delhi Police) दीपेंद्र पाठक ने कहा कि हमें कई इंटेलिजेंस इनपुट मिले हैं कि इस ट्रैक्टर रैली को डिस्टर्ब करने की साजिश रची जा रही है। पाकिस्तान में बने ट्विटर हैंडल (Twitter Handles) का इस्तेमाल करके क़ानून व्यवस्था की स्थिति को बिगाड़ने की कोशिश की जा सकती है। पाठक ने भरोसा दिलाया कि किसानों की ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) में अव्यवस्था फैलाने की कोशिश की आशंका के मद्देनज़र पुलिस पूरी तरह अलर्ट है।

यह भी पढ़ें: किसानों की ट्रैक्टर रैली के लिए आख़िरकार मान गई पुलिस, तीन जगहों से दिल्ली में प्रवेश की छूट

दीपेंद्र पाठक ने कहा कि मंगलवार को गणतंत्र दिवस का कार्यक्रम ख़त्म होने के बाद कड़ी सुरक्षा में ट्रैक्टर परेड निकाली जाएगी। हालाँकि यह एक चुनौती भरा काम होगा, लेकिन पुलिस इसके लिए पूरी तरह सतर्क है। उन्होंने प्रेस कॉन्फ़्रेंस के दौरान कहा कि पाकिस्तान में ट्रैक्टर रैली के दौरान गड़बड़ी फैलाने के मक़सद से ट्विटर हैंडल बनाने का काम 13 से 18 जनवरी के दरम्यान किया गया है। उन्होंने कहा कि इस बारे में अलग-अलग एजेंसियों से एक ही तरह का इनपुट मिला है। जिसे देखते हुए पुलिस पूरा एहतियात बरत रही है। रविवार को पुलिस कमिश्नर ने आदेश दिया है कि गणतंत्र दिवस की सुरक्षा में तैनात सभी पुलिसकर्मी परेड के बाद तुरंत किसानों की ट्रैक्टर रैली में ड्यूटी करने के लिए शॉर्ट नोटिस पर तैयार रहें।

किसान नेताओं ने भी अपील की है कि लोग शांतिपूर्ण तरीके से ट्रैक्टर रैली निकालें, लेन में चलें, स्टंट न करें। किसान संगठनों की तरफ़ से वॉलंटियर भी तैनात किए जाएँगे। स्वराज इंडिया के संयोजक योगेंद्र यादव ने भी किसानों से अपील की है कि वे परेड में सिर्फ़ ट्रैक्टर लेकर आएँ, ट्रॉली न लाएँ।

आंदोलनकारी किसान यूनियनों के संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ़ से मीडिया को दी गई जानकारी के मुताबिक़ गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड की शुरुआत राजपथ पर आधिकारिक गणतंत्र दिवस परेड ख़त्म होने के बाद की जाएगी। इस परेड के शाम 6 बजे तक समाप्त होने की उम्मीद है। इस दौरान यह परेड 100 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करेगी।