उत्तर प्रदेश में दो दर्जन जिलों के 600 गांव बाढ़ की चपेट में, 110 गांवों से संपर्क टूटा

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बाढ़ प्रभावित हमीरपुर और जालौन का किया हवाई सर्वेक्षण, हमीरपुर के 75 और जालौन के 67 गांवों में बाढ़ का पानी भर गया है

Updated: Aug 12, 2021, 08:32 PM IST

उत्तर प्रदेश में दो दर्जन जिलों के 600 गांव बाढ़ की चपेट में, 110 गांवों से संपर्क टूटा
Photo Courtesy: Twitter

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कम से कम दो दर्जन जिलों में बाढ़ का कहर चरम पर है। गंगा, यमुना के अलावा कई छोटी नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। राज्य के करीब 605 गांव पानी में डूबे हुए हैं। लेकिन सबसे बुरा हाल उन 110 गांवों का है, जिनका संपर्क बाहरी दुनिया से कट गया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक इलाहाबाद (प्रयागराज), गाजीपुर और बलिया में गंगा खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। यमुना का बहाव भी पांच जगहों पर खतरनाक रूप ले चुका है। टोंस और ससुर खदेरी जैसी नदियां भी अपना दायरा तोड़कर सड़कों और गांवों में लोगों के घरों तक पहुंच गयी हैं। तबाही का मंज़र देखने के लिे राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया।

यह भी पढ़ें: देश की 60 फीसदी आबादी की आवाज़ दबा रही है मोदी सरकार, पैदल मार्च के बाद राहुल गांधी ने बोला हमला

बताया जा रहा है कि बीते 24 घंटे में प्रयागराज में 12 गुना अधिक वर्षा हुई है। पूरे उत्तरप्रदेश की बात की जाए तो बीते 24 घंटे में राज्यभर में 154 फीसदी अधिक बारिश दर्ज की गयी है। उत्तर प्रदेश में अति वर्षा और बांधों से पानी छोड़े जाने के कारण कई नदियां उफान पर हैं और राज्य में 24 जिले इसकी चपेट में आ गए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को ही बाढ़ प्रभावित जालौन और हमीरपुर इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया था। इस दौरान सीएम ने अधिकारियों को तत्काल राहत बचाव कार्य शुरू करने का निर्देश दिया गया। सीएम योगी ने कहा कि, 'जिन गांवों में विद्युत आपूर्ति प्रभावित हुई है, वहां बाढ़ का पानी निकल जाने के उपरान्त यथाशीघ्र विद्युत आपूर्ति बहाल की जाए, साथ ही लोगों के बीच राहत सामग्री बांटी जाए।'

यह भी पढ़ें: ट्विटर ने राहुल गांधी के बाद कांग्रेस के ऑफिसियल हैंडल समेत कई बड़े नेताओं का अकाउंट लॉक किया

उधर मौसम विभाग ने अगले दो दिनों तक प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश होने का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक चित्रकूट, कौशाम्बी, प्रयागराज, सोनभद्र, मिर्जापुर, चंदौली, वाराणसी, संत रविदास नगर, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, बलरामपुर जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है।