छत्तीसगढ़ में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच रायपुर में वैक्सीनेशन पर लगा ब्रेक

छत्तीसगढ़ में फिर से पैर पसार रहा कोरोना, 24 घंटे में मिले 333 नए केस, रायुपर में दवा की कमी से वैक्सीनेशन का काम भी शुक्रवार को ठप, इस सप्ताह अब तक मिले कुल मरीजों की संख्या 1177 हुई

Updated: Jul 16, 2021, 12:45 PM IST

छत्तीसगढ़ में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच रायपुर में वैक्सीनेशन पर लगा ब्रेक
Photo Courtesy: india.com

 रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर बढ़ने लगे हैं। बीते 24 घंटे में प्रदेश में 333 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं, वहीं कुल 342 मरीज़ों ने कोरोना को मात दी। कोरोना से तीन लोगों की मौत हुई है। जिसके बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा आंकड़ा 9 लाख 99 हजार से ज्यादा हो गया है। सबसे ज्यादा नए मरीज राजनांदगांव में 35,धमतरी में 25, दुर्ग में 14 नए रायपुर में 16 मिले हैं। राजनांदगांव के पुलिस ट्रेनिंग सेंटर के 35 जवानों के संक्रमित होने से जिले में हड़कंप मच गया है।  

वर्तमान में राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 4016 है। प्रदेश में बढ़ते संक्रमण के बीच भी राजधानी रायपुर में शुक्रवार को टीकाकरण अभियान पर ब्रेक लगा दिया गया है। इसके लिए वैक्सीन की कमी होने की बात कही जा रही है। बताया जा रहा है कि कोरोना वैक्सीन की खेप पुणे से रायपुर नहीं पहुंची है, जिसकी वजह से शुक्रवार को सभी वैक्सीनेशन सेंटर्स को बंद रखने का फैसला लिया गया है।  

वहीं प्रदेश में सारी गतिविधियों को छूट मिल चुकी है, बाजार, मॉल, जिम, सिनेमा घरों को खोल दिया गया है। जिसके बाद एक बार फिर मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है। इस सप्ताह में रोजाना ढ़ाई सौ से ज्यादा मरीज मिले हैं। सोमवार से अब तक प्रदेश में 1177 मरीज मिल चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग से मिले आंकड़ों के अनुसार सोमवार को 297, मंगलवार को 295, बुधवार को 252 और गुरुवार को 333 मरीज मिले हैं। वहीं एक्टिव मरीजों की संख्या चार हजार से ज्यादा है। इस सप्ताह प्रदेश में कोरोना टीकाकरण तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश के 50 से ज्यादा गांवों में सौ फीसदी तक वैक्सीनेशन का का दावा है। इस हफ्ते 1934 मरीजों ने कोरोना को मात दी है, रिकवर होने वालों से दोगुने से एक्टिव मरीज हैं।  प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 9 लाख 99 हजार 150 तक हो गया है। अब तक कोरोना से 13,489 लोगों की मौत हो गई है।

छत्तीसगढ़ में 1 करोड़ 7 लाख 86 हजार 826 लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है। 45 साल की उम्र से ज्यादा के 13 लाख 36 हजार 444 लोगों को दोनों डोज लग चुकी है। जबकि 18 से ज्यादा की उम्र के 87 हजार 640 लोगों को टीका लगा है।