भारत सरकार की गाड़ी से हो रही थी गांजे की तस्करी, छत्तीसगढ़ पुलिस ने किया भंडाफोड़

गांजा तस्कर अपनी लग्जरी कार पर भारत सरकार का बोर्ड लगाकर घूम रहा था, खुफिया सूचना के आधार पर पुलिस ने धर दबोचा, वाहन से 60 किलो गांजा बरामद

Updated: Jan 17, 2022, 06:44 PM IST

भारत सरकार की गाड़ी से हो रही थी गांजे की तस्करी, छत्तीसगढ़ पुलिस ने किया भंडाफोड़

महासमुंद। छत्तीसगढ़ में गांजा तस्करी का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां भारत सरकार की गाड़ी से गांजे के खेप को शिफ्ट किया जा रहा था। हालांकि, छत्तीसगढ़ पुलिस की खुफिया नेटवर्क के कारण इस मामले का भंडाफोड़ हो गया है। पुलिस ने भारत सरकार लिखे एक वाहन से 60 किलो गांजा भी बरामद किया है।

दरअसल, पुलिस से बचने के लिए तस्करों ने गांजा सप्लाई के लिए यह खुराफाती दिमाग लगाया था। उन्होंने फोर्ड की एक लग्जरी कार पर भारत सरकार का बोर्ड लगा रखा था ताकि कोई ज्यादा छानबीन न करे और तस्करी में रुकावट न हो। इसी बीच पुलिस को अपने एक मुखबिर से सूचना मिली कि गांजे की बड़ी खेप ओडिशा से महासमुंद होते हुए मनेन्द्रगढ़, कोरिया की ओर जाने वाली है।

यह भी पढ़ें: बेरोजगारी से तंग आकर इंजीनियर ने लगाई फांसी, डिग्री के 2 साल बाद भी जॉब नहीं मिलने से थी परेशान

टिप मिलने के बाद संबंधित थानों को मुस्तैद कर दिया गया था। महासमुंद जिले में प्रवेश करने वाले सभी नाकों पर सुरक्षाबलों की तैनाती कर संदिग्ध वाहनों की जांच हो रही थी। तभी सोहेला, बरगढ़ की ओर से महासमुंद की ओर जाती सफेद रंग की एक फोर्ड कार आई। इसमें भारत सरकार लिखा हुआ था। मुखबिर सूचना अनुसार फोर्ड कार सरायपाली के पास पहुंचा जिसे पटेल चौक भंवरपुर रोड के पास घेराबंदी कर रोका गया। रोककर पूछताछ किए जाने पर चालक गोलमोल जवाब देने लगा।

पुलिस ने जब वाहन की तलाशी ली तो उनका शक सही निकला। कार की पीछे डिक्की में 60 किलो गांजा बरामद हुआ। पुलिस ने कार चालक को गिरफ्तार कर गाड़ी को कब्जे में ले लिया है। फिलहाल पुलिस इस अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश करने के लिए युवक से पूछताछ कर रही है।