छत्तीसगढ़ के 22 जिलों में मुख्यमंत्री कन्या विवाह का आयोजन, शादी के बंधन में बंधे 3300 जोड़े

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत विभिन्न धर्मों के 3300 जोड़े शादी के बंधन में बंधे, रायपुर में हुआ मुख्य आयोजन, अन्य जिलों से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए जुड़े सीएम भूपेश बघेल

Updated: Feb 27, 2021, 06:01 PM IST

छत्तीसगढ़ के 22 जिलों में मुख्यमंत्री कन्या विवाह का आयोजन, शादी के बंधन में बंधे 3300 जोड़े
Photo Courtesy: twitter

रायपुर। छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत सामूहिक विवाह हुए। इस कार्यक्रम में प्रदेश भर के 3,330 युवक युवती विवाह के बंधन में बंध गए। मुख्य समारोह राजधानी रायपुर के बलबीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम परिसर में हुआ। जहां मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नव विवाहित जोड़ों को आशीर्वाद देने पहुंचे थे। यह पहला मौका है जब छत्तीसगढ़ में एक साथ 22 जिलों में सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नव दंपत्तियों को आशीर्वाद और उनके सुखमय जीवन के लिए शुभकामनाएं दी। सभी 22 जिले वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से जुड़े। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत रायपुर में 240 जोड़ों का विवाह हुआ। जिसमें 3 ईसाई, 1 मुस्लिम, 236 हिंदू जोड़े शामिल थे। 

 

वहीं जगदलपुर में 75 जोड़ों की शादी हुई। इस योजना अंतर्गत शादी करने वाले 75 जोड़ों में 65 जोड़ों ने हिन्दू रितिरिवाज और 10 जोड़ों ने ईसाई पद्धति से शादी की।

इस सामूहिक विवाह के आयोजन में विभिन्न धर्मों के रीति रिवाज के अनुसार शादियां हुई, हिंदू के आलावा ईसाई और मुस्लिम समुदाय के युवक-युवती भी शादी के बंधन में बंधे हैं।

  बेटियों के विवाह के लिए राज्य सरकार की ओर से सामूहिक विवाह योजना के तहत दी जाने वाली राशि 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार की गई है। जिससे बेटियों के विवाह में किसी तरह की कोई कमी ना आने पाए। छत्तीसगढ़ सरकार हर जोड़े पर 25 हजार रूपए खर्च करती है। जिसमें 20 हजार रूपए का सामान नवदंपत्ति को दिया जाता है, बाकी 5 हजार रूपए प्रति जोड़े वैवाहिक कार्यक्रमों के आयोजन पर खर्चा होता है। साथ ही सामूहिक विवाह में मैरिज सर्टीफिकेट भी प्रदान किए जाते हैं।

इस मौके पर प्रदेश के कई सांसद, मंत्री, विधायक भी मौजूद थे। रायपुर में राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया, संसदीय सचिव रश्मि आशीष सिंह, छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक ने शिरकत की। वहीं अन्य जिलों में स्थानीय विधायक और मंत्री सामूहिक विवाह में नव विवाहितों को आशीर्वाद देने पहुंचे थे।