ओवर हाइड्रेशन कर सकता है बीमार, पानी पीते वक्त रखें इन बातों का ध्यान

शरीर में पानी की अधिकता से इलेक्ट्रोलाइट्स की होती है कमी, सिरदर्द और वीक मसल्स की हो सकती है समस्या, 1.5 लीटर पानी के अलावा, दूध, दही, जूस, सूप, नारियल पानी से पूरी करें पानी की मात्रा

Updated: Sep 18, 2021, 04:03 PM IST

ओवर हाइड्रेशन कर सकता है बीमार, पानी पीते वक्त रखें इन बातों का ध्यान
Photo Courtesy: medical news

सेहतमंद रहने के लिए जितना जरूरी हेल्दी खाना है, उतना ही जरूरी पानी पीना भी है। शरीर में पानी की कमी से कई तरह की दिक्कतें होने लगती हैं। कई बार तो डीहाइड्रेशन की वजह से लोगों की जान तक चली जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ज्यादा पानी पीना भी नुकसानदायक हो सकता है। अगर आप रोजाना 1.5 से 2 लीटर पानी से ज्यादा पीते हैं तो शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी का समाना करना पड़ सकता है। कई जरूरी इलेक्ट्रोलाइट्स जैसे पोटेशियम, सोडियम और मैग्नीशियम की कमी हो सकती है। ज्यादा पानी की वजह से शरीर की कोशिकाओं में सूजन हो जाती है। जिसकी वजह से कई बार वेट बढ़ने लगाता है।   

ज्यादा पानी पीने से किडनी पर ज्यादा लोड आता है। इलेक्ट्रोलाइट्स किडनी और हार्ट के साथ-साथ अन्य अंगों को भी नियंत्रित करते हैं। जरूरत से ज्यादा पानी पीने से इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी अंगों पर असर डाल सकती है।शरीर की मेटाबॉलिज्म बिगड़ सकता है, जिससे वेट बढ़ना, वीक मसल्स और सिरदर्द की समस्या हो सकती है। एक्सपर्ट्स की मानें तो 1.5 लीटर पानी शरीर के लिए पर्याप्त होता है। वहीं लिक्वड के तौर पर आप दूध, दही, छांछ, जूस, सूप, नारियल पानी, चाय और खाने से पानी की मात्रा की पूर्ति कर सकते हैं।

 एक्सपर्ट्स का दावा है कि बिना प्यास के पानी नहीं पीना चाहिए। अगर यूरिन का रंग साफ है तो आपके शरीर में पानी पर्याप्त मात्रा में है। आपको चिंता करने या ज्यादा पानी की जरूरत नहीं हैं। अगर यूरिन पीले रंग का है तो पानी की मात्रा बढ़ानी चाहिए। अगर आप 6-10 से अधिक बार यूरिन के लिए जा रहे हैं। तो यह सामान्य प्रक्रिया है। ज्यादा पानी पीने से शरीर की मांसपेशियों में कंपन और कमजोरी महसूस हो सकती है। थकान का अनुभव होता है।

और पढ़ें: गुड कोलेस्ट्राल से भरपूर है बादाम, रिसर्च का दावा रोजाना बादाम के सेवन से प्री डायबटिक स्टेज में ही कंट्रोल हो जाती है शुगर  

हर मौसम में शरीर को अलग-अलग मात्रा में पानी की जरूरत होती है। सर्दी में कम और गर्मियों में ज्यादा प्यास लगती है। वहीं हर व्यक्ति की पानी की जरूरत अलग होती है। केवल इसलिए कि किसी ने कहा है, इसलिए 3 लीटर पानी पीना है। और आप जबरन पानी पी रहे हैं भले ही प्यास लगे या नहीं। इसकी अपेक्षा प्यास लगने पर पानी पीएं तो वह ज्यादा कारगर होगा। पानी को एक सांस में पीने की बजाय पानी को धीरे धीरे पीना चाहिए।

और पढ़ें: वेट लॉस में रामबाण है ग्रीन टी, कितनी चाय देगी जादुई रिजल्ट, जाने यहां

पानी की कमी पूरा करने के ले रोजाना अपनी डाइट में उन चीजों को शामिल करें जिनमें पानी की मात्रा ज्यादा हो। करीब 20 फीसदी पानी हमें हमारे भोजन से मिलता है। इनमें फल और सब्जियां शामिल हैं। तरबूज, खरबूज, संतरा, मौसमी जैसे फलों में पर्याप्त पानी होता है।

और पढ़ें: तन और मन दोनों की सेहत के लिए मिश्री है लाभदायक

वहीं सब्जियों में पालक, पत्ता गोभी, टमाटर में 100% पानी होता है। साथ ही नारियल पानी के सेवन से पानी की जरूरत को पूरा किया जा सकता है। नारियल पानी पीने से मिनरल, विटामिन और दूसरे न्यूट्रियंट्स का बैलेंस बना रहता है। इससे शरीर भी हाइड्रेटड रहता है।