12 बरस का हुआ WhatsApp, विवादों के बाद भी यूजर्स का नहीं छूट रहा मोह, दुनिया भर में रोजाना 100 बिलियन मैसेज होते हैं डिलिवर

फरवरी 2009 में शुरू हुई कंपनी वाट्सएप अपनी 12वीं सालगिरह मना रही है, दो बिलियन से ज्यादा एक्टिव यूजर्स रोजाना 100 बिलियन याने 10 अरब मैसेज करते हैं, इस ऐप से हर दिन करीब 1 अरब से अधिक कॉल होते हैं

Updated: Feb 25, 2021, 02:19 PM IST

12 बरस का हुआ WhatsApp,  विवादों के बाद भी यूजर्स का नहीं छूट रहा मोह, दुनिया भर में रोजाना 100 बिलियन मैसेज होते हैं डिलिवर
Photo Courtesy: twitter

इंस्टेंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म वाट्सऐप की स्थापना के 12 साल पूरे हो गए हैं, 25 फरवरी 2009 में इसकी शुरूआत हुई थी। आज यह ऐप दुनियाभर में इतना फेमस हो गया है कि बहुत से लोग इसके बिना जीवन की कल्पना भी नहीं कर पाते। चाहे घर परिवार की बातें हो या ऑफिस का काम यूजर्स इसके जरिए ही करते हैं। इस ऐप पर मैसेज, वीडियो, GIF, स्टेटस के साथ आडियो और वीडियो कॉलिंग की सुविधा मिलती है, अब कंपनी ने नया पेमेंट फीचर भी जोड़ दिया है। इस लेटेस्ट WhatsApp Payments फीचर के जरिए यूजर्स अब पैसों का ट्रांजेक्शन आसानी से कर सकते हैं।

अपनी सुरक्षा पॉलीसियों के विवाद के बाद भी यूजर्स की पहली पसंद WhatsApp ही है। यूजर्स इसके इतने आदी हो गए हैं कि मैसेज, फोटो, वीडियो भेजने के लिए इस पर ही निर्भर हैं। लाखों की संख्या में यूजर्स हर हाल में WhatsApp से जुड़े रहना चाहते हैं। इसकी खास वजह है कि यह बेहद ही यूजर फ्रेंडली है, लोगों को दूसरे ऐप्स का इंटरफेस रास नहीं आ रहा है।

12वीं एनिवर्सरी पर वाट्सऐप की ओर से एक ट्वीट किया गया है, जिसमें कंपनी की ओर से इसके यूजर्स का आंकड़ा जारी किया गया है। वाट्सऐप का कहना है कि हर महीने दो बिलियन से अधिक यूजर 100 बिलियन मैसेज भेजते हैं। इस एप पर रोजाना एक बिलियन से अधिक कॉल किए जाते हैं।

गौरतलब है कि वाट्सएप ने फरवरी 2015 में अपने ऐप में आडियो कॉलिंग शुरू की और नवंबर 2016 में वीडियो कॉलिंग की सुविधा प्रदान की। जिसके बाद से लोगों को ऐसा लगा जैसे दुनिया उनकी मुट्ठी में आ गई हो। यही वजह है कि लोग इसे छोड़ना नहीं चाहते हैं। आगे चलकर यह ऐप एक के बाद एक नए फीचर जोड़ता गया। अगस्त 2018 में वाट्सऐप पर ग्रुप वॉयस और वीडियो कॉलिंग फीचर मिलने लगा। इसमें यूज़र्स को स्टिकर्स और GIFs शेयर करने का आप्शन भी मिल रहा है। अब यूजर्स इसके नए फीचर WhatsApp Payments से पैसों का लेन-देन करना पंसद कर रहे हैं।

2009 में वाट्सऐप की स्थापना Yahoo के पूर्व कर्मचारियों ब्रायन एक्टन और जेन कौम ने की थी। फिर आगे चलकर इसे फरवरी 2014 में फेसबुक ने अधिग्रहित कर लिया था। तब से इसकी प्राइवेसी पर कई सवाल खड़े होने लगे हैं। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो वाट्सएप पर फेसबुक और उसकी सहायक कंपनियों के साथ यूज़र्स का डेटा शेयर करने की बातें अक्सर कही जाती हैं।

और पढ़ें: WhatsApp का नया फीचर, फ़ेसबुक की तरह कर सकेंगे लॉग आउट

वाट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी आने के बाद इस पर सवाल खड़े हुए, जिसे लेकर कंपनी द्वारा सफाई दी गई है कि नई पॉलिसी बिजनेस अकाउंट के लिए लागू की गई है, आम यूज़र्स के अकाउंट पर इसका कोई असर नहीं होगा। नई प्राइवेसी पॉलिसी फरवरी 2021 में लागू करना फिलहाट टाल दिया गया है। बताया जा रहा है कि अब वाट्सएप ने नई पॉलिसी को 15 मई तक होल्ड कर दिया है।

कंपनी द्वारा इस बात की आधिकारिक पुष्टि करना कि हर महीने दो बिलियन से अधिक यूजर 100 बिलियन मैसेज भेजे जाते हैं। यह सिद्ध करता है कि इसके बिना लोगों की काम बंद हो ना हो प्रभावित तो जरूर होता है।हाल ही में इसका एक नया फीचर आय़ा है, जिसके तहत अब वाट्सऐप भी फेसबुक  और ट्विटर की तरह ही अ लॉग आउट किया जा सकेगा।