चीनी शोधकर्ताओं को चमगादड़ों में मिला नए तरह का कोरोना, मौजूदा कोरोना वायरस से मिलता जुलता है यह वायरस

चीन के दक्षिण पश्चिम हिस्से में यह रिसर्च की गई, इस रिसर्च में चमगादड़ प्रजातियों में कोरोना वायरस के 24 नए जीनोम मिले हैं, जिसमें एक मौजूदा वक्त में चल रही कोरोना महामारी के जैसा है

Publish: Jun 13, 2021, 10:00 AM IST

चीनी शोधकर्ताओं को चमगादड़ों में मिला नए तरह का कोरोना, मौजूदा कोरोना वायरस से मिलता जुलता है यह वायरस
Photo Courtesy: npr.org

नई दिल्ली। चीन में चमगादड़ों पर एक शोध किया गया, जिसमें एक बड़ा खुलासा हुआ है। शोधकर्ताओं को चमगादड़ों में कोरोना वायरस से मिलता जुलता ही नए तरह का वायरस मिला है। चमगादड़ों में कोरोना का एक ऐसा स्ट्रेन मिला है, जो मौजूदा वक्त में चल रही कोरोना महामारी का सबसे करीबी है। 

शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि उन्होंने चमगादड़ों में कोरोना वायरस के नए रूप का पता लगाया है। शोधकर्ताओं ने अपनी शोध में चमगादड़ों के मल मूत्र और उनके मुंह से नमूनों को एकत्रित किया था। शोधकर्ताओं ने यह नमूने चीन के यूनान प्रांत के जंगलों में रहने वाले चमगादड़ों से इकट्ठा किए। सीएनएन न्यूज़ के मुताबिक चमगादड़ों के ये नमूने मई 2019 मार्च 2020 में इकट्ठा किए गए थे। 

यह भी पढ़ें : G-7 समिट में वर्चुअली शामिल हुए पीएम मोदी, कोरोना काल में मदद के लिए सभी देशों का किया धन्यवाद

शोध के दौरान शोधकर्ताओं को चमगादड़ों की विभिन्न प्रजातियों में कोरोना के 24 नए जीनोम मिले। जिसमें चार sars-CoV-2 जैसे कोरोना वायरस शामिल हैं। इसमें एक वायरस मौजूदा वक्त में कोरोना का कारण बन रहे वायरस के समान था।  

यह भी पढ़ें : शनिवार को दिल्ली में मिले कोरोना के 213 मरीज़, तीन महीनों में सबसे कम

शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि थाईलैंड से जून 2020 में एकत्रित किए गए वायरस से यह परिणाम स्पष्ट तौर पर बताते हैं कि sars-CoV-2 से निकटता से संबंधित वायरस चमगादड़ों की प्रजाति में प्रसारित होते रहते हैं। चमगादड़ों पर किए गए इस शोध को जर्नल सेल में प्रकाशित किया गया है।