मूँछों के हठी सिपाही को शौक़ पड़ा भारी, भोपाल पुलिस ने अनुशासनहीनता के आरोप में किया सस्पेंड

लंबी मूँछों वाले मध्य प्रदेश पुलिस ने जवान ने कहा यह तो बड़े अधिकारी भी रखते हैं, पता नहीं मेरे ख़िलाफ़ अब कार्रवाई क्यों हुई.. अपने बयान में मूँछों को बताया राजपूती शान और कहा निलंबन झेलूंगा मगर मूँछें नहीं कटाऊँगा

Updated: Jan 09, 2022, 04:24 PM IST

मूँछों के हठी सिपाही को शौक़ पड़ा भारी, भोपाल पुलिस ने अनुशासनहीनता के आरोप में किया सस्पेंड

भोपाल। सेना और पुलिस के जवानों में मूंछें रखने का क्रेज आम है। लेकिन मध्य प्रदेश पुलिस के एक जवान को मूंछें रखना महंगा पड़ गया। विभाग ने लंबी मूंछ के कारण पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया। कारण यह बताया गया कि मूंछ के कारण चेहरा भद्दा लगता है।

मामला राजधानी भोपाल को-ऑपरेटिव फ्रॉड एवं लोक सेवा गारंटी विंग का है। विभाग में राकेश राणा कॉन्स्टेबल के पद पर तैनात हैं। वे स्पेशल डीजी का वाहन चलाने का काम करते थे मगर उन्हें मूंछों का शौक भारी पड़ रहा है। विभाग के अधिकारियों ने उन्हें मूंछें हटाने की हिदायत दी लेकिन वे अपने लुक के साथ कोई समझौता करने को तैयार नहीं हुए। नाराज़ अधिकारियों ने उन्हें सस्पेंशन आर्डर थमा दिया। इस सस्पेंशन ने मूछोंवाले पुलिस जवान को रातों-रात शहर में चर्चा का विषय बना दिया है।

यह भी पढ़ें: इंदौर सेक्स रैकेट का BJP कनेक्शन, थाईलैंड की लड़कियों के साथ युवा मोर्चा के तीन पदाधिकारी गिरफ्तार

इधर विभाग ने आदेश में लिखा है कि राणा का टर्नआउट चेक करने पर पाया गया कि उसके बाल बढ़े हुए हैं, एवं मूछें अजीब डिजाइन में गले पर है जिससे टर्नआउट अत्यधिक भद्दा दिखाई दे रहा है। उन्हें बाल और मूंछें उचित ढंग से कटवाने हेतु निर्देश दिये गए। लेकिन उन्होंने आदेश का पालन नहीं किया एवं बाल और मूंछ जस के तस रखने का हठ बनाये रखा। यह यूनिफार्म सेवा में अनुशासनहीनता की श्रेणी में आता है तथा इस कृत्य का अन्य कर्मचारियों पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। इस लिए उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है। 

आदेश में यह भी लिखा गया है कि उन्हें नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता दिया जाएगा। सोशल मीडिया पर विभाग का यह आदेश और कॉन्स्टेबल की तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। बताया जा रहा है कि लंबी मूंछ की वजह से यह जवान विभाग के बड़े अधिकारियों की किरकिरी बन गया था और वे इससे चिढ़ने लगे थे। इसीलिए उसे निलंबित कर दिया गया। 

बहरहाल निलंबन पर अब राकेश राणा का भी बयान सामने आ गया है। राणा ने कहा है कि मैं राजपूत परिवार से हूं और मूंछ हमारा स्वाभिमान है। मैं मूंछें नहीं हटाऊंगा। अधिकारी मूंछें रख सकते हैं तो मैं क्यों नहीं? मुझे निलंबन स्वीकार है।