कब्रिस्तान में खुदाई करने वालों के हाथों में पड़े छाले, कब्रिस्तान के बाहर लगाना पड़ा हाउसफुल का बोर्ड

झदा कब्रिस्तान में अप्रैल माह में कोरोना के कुल 65 शवों को सुपुर्द ए ख़ाक किया गया है, अकेले गुरुवार को कब्रिस्तान में कोरोना के 10 शव लाए गए

Updated: Apr 16, 2021, 08:11 PM IST

कब्रिस्तान में खुदाई करने वालों के हाथों में पड़े छाले, कब्रिस्तान के बाहर लगाना पड़ा हाउसफुल का बोर्ड
Photo Courtesy: Dainik Bhaskar

भोपाल। आज तक आपने सिनेमा हॉल के बाहर हाउसफुल का बोर्ड लगा देखा होगा। लेकिन कोरोना का कहर इतना विकराल रूप ले चुका है कि अब  शवदाह गृहों और कब्रिस्तानों में भी हाउसफुल के बोर्ड लगने लगे हैं। राजधानी भोपाल के झदा कब्रिस्तान के बाहर हाउसफुल का बोर्ड लगा दिया गया है। कब्रिस्तान में रोज़ाना दस बजे के करीब कोरोना मृतकों का जनाज़ा लाया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें : शहडोल: कोरोना के बीच भाजपा ज़िला अध्यक्ष ने मनाया जन्मदिन, कोरोना के नियमों की उड़ाई धज्जियां

भोपाल में कब्रिस्तान की तस्वीर श्मशान घाटों से अलग नहीं है। झदा कब्रिस्तान में अब शवों को दफनाने के लिए मिट्टी कम पड़ने लगी है। कब्रिस्तान ने भोपाल कलेक्टर से पर्याप्त मिट्टी मुहैया कराने की मांग की है। दूसरी तरफ कब्र खोदने वाले लोगों के हाथों में छाले पड़ने लगे हैं। आलम यह है कि अब कब्रिस्तान में जेसीबी से कब्रों की खुदाई शुरू हो गई है। 

यह भी पढ़ें : कोरोना संक्रमित हुए दिग्विजय सिंह, ट्वीट कर दी जानकारी

झदा कब्रिस्तान में अप्रैल महीने में अब तक कोरोना के 65 शव लाए जा चुके हैं। इनमें से 52 मृतक ऐसे थे जिनकी मौत घर पर हुई थी। गुरुवार को भी झदा कब्रिस्तान में 17 शव लाए गए। इन शवों में 10 शव कोरोना मृतकों के थे। इसमें 7 शव ऐसे मृतकों के थे जिनकी मौत घर पर हुई थी।