कोरोना काल में मरने वाले हर फ्रंट लाइन वर्कर के परिजनों को 50 लाख दे सरकार, दिग्विजय सिंह ने शिवराज को याद दिलाई उनकी घोषणा

दिग्विजय सिंह ने कहा है कि कोरोना की लहर में प्रदेश में कुल 152 पुलिसकर्मियों की मृत्यु हुई, लेकिन राज्य सरकार ने अब तक केवल 7 मृतकों के परिजनों को ही राशि आवंटित की है, कांग्रेस नेता ने शिवराज सरकार के इस रवैए को खेदजनक करार दिया है

Updated: Jun 30, 2021, 06:48 PM IST

कोरोना काल में मरने वाले हर फ्रंट लाइन वर्कर के परिजनों को 50 लाख दे सरकार, दिग्विजय सिंह ने शिवराज को याद दिलाई उनकी घोषणा

भोपाल। कोरोना काल में जान गंवाने वाले वाले ज्यादातर फ्रंट लाइन वर्कर्स के परिजनों तक सरकार की मदद नहीं पहुंच पाई है। ऐसे समय में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने सरकारी सिस्टम से पीड़ित लोगों की आवाज़ उठाई है। कांग्रेस नेता ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर उनके घोषणा की याद दिलाई है। और साथ ही जल्द ही कोरोना मृतकों के परिजनों को अनुग्रह राशि मुहैया कराने की मांग की है। 

यह भी पढ़ें : सीएम की सिक्योरिटी में तैनात सिपाही ने की गोली मारकर आत्महत्या, मौके से नहीं मिला कोई सुसाइड नोट

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सीएम को लिखे पत्र में कहा है कि आपके द्वारा कोरोना महामारी के दौरान प्रदेश के पुलिसकर्मियों को उनकी मृत्यु हो जाने पर फ्रंट लाइन वर्कर मानते हुए 50 लाख रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की गई थी। राज्यसभा सांसद ने शिवराज से कहा है कि प्रदेश में कोरोना के कारण अब तक 152 पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी है, लेकिन सरकार ने अब तक केवल सात मृतकों के परिजनों को ही अनुग्रह राशि दी है। 

कांग्रेस नेता ने मृतकों के परिजनों के प्रति शिवराज सरकार के इस उदासीन रवैए की निंदा की है। दिग्विजय सिंह ने अपने पत्र में लिखा है कि प्रदेश में दिन रात काम करते हुए 12 हजार पुलिस कर्मी पॉजिटिव हुए, जो कि प्रदेश की कुल पुलिस फोर्स का दस फीसदी है। दिग्विजय सिंह ने सीएम से कहा है कि मौतों का आंकड़ा निरंतर बढ़ता देख राज्य सरकार ने अनुग्रह राशि देने के बजाय अपने पैर पीछे खींच लिए। सरकार मृतक के परिजनों को अनुग्रह राशि देने में असमर्थता दिखाने लगी। कांग्रेस नेता ने कहा है कि प्रदेश सरकार की ओर से किया गया यह व्यवहार अत्यंत खेदजनक है। 

यह भी पढ़ें : MP पुलिस के 152 जवानों की हुई कोरोना से मौत, केवल 7 के नसीब में आया सरकारी मुआवजा

दिग्विजय सिंह ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि कोरोना के कारण मरने वाले तमाम फ्रंट लाइन वर्कर्स के परिजनों को 50 लाख रुपए की अनुग्रह राशि तुरंत ही मुहैया कराई जानी चाहिए। इसके साथ ही कांग्रेस नेता ने मृतक के परिवार के एक सदस्य को अनुकंपा के तहत नौकरी दिए जाने की भी मांग की है।